Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2020 - आकाश चोपड़ा ने आरसीबी की हार को लेकर दी बड़ी प्रतिक्रिया

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL
Nitesh
ANALYST
Modified 07 Nov 2020, 13:20 IST
Advertisement

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और दिग्गज कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के एक और खराब प्रदर्शन के बाद बड़ी प्रतिक्रिया दी है। आकाश चोपड़ा के मुताबिक आरसीबी को बिना विराट कोहली (Virat Kohli) और एबी डीविलियर्स के जीतना सीखना होगा। आकाश चोपड़ा ने कहा कि जब भी कोहली और डीविलियर्स अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तब आरसीबी को हार का सामना करना पड़ता है।

आकाश चोपड़ा ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ एलिमिनेटर मुकाबले में मिली हार का एनालिसिस किया। उनके मुताबिक आरसीबी ने टीम में कई सारे बदलाव किया और इससे पता चलता है कि कितनी अनिश्चितता की स्थिति उनके कैंप में है।

आकाश चोपड़ा ने कहा " आरसीबी के बैटिंग ऑर्डर में कई बदलाव हुए। उन्होंने टीम में 4 बदलाव किए और उनमें से एक बदलाव तो उन्हें मजबूरी में करना पड़ा लेकिन बाकी सारे बदलाव उन्होंने क्यों किए ? अगर आप इतने सारे बदलाव करते हैं और बैटिंग ऑर्डर को ऊपर - नीचे करते हैं तो इसका मतलब ये है कि आपको 100 प्रतिशत भरोसा नहीं है।"

दिग्गज कमेंटेटर ने आरोन फिंच के टीम में होने के बावजूद विराट कोहली के ओपनिंग करने के फैसले पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा "अगर आरसीबी ने आरोन फिंच को खिलाया था तो फिर उन्हें उनसे ही ओपन करवाना चाहिए था। विराट कोहली ने खुद ही ओपनिंग की लेकिन जल्द आउट हो गए। देवदत्त पडिक्कल भी आउट हो गए। फिंच और डीविलियर्स के बीच पार्टनरशिप जरुर हुई लेकिन जब फिंच के आउट होने के बाद मोईन अली भी फ्री हिट पर आउट हो गए। इससे पता चलता है कि आरसीबी का दिन कितना खराब था।"

आरसीबी को केवल कोहली और एबी पर ही निर्भर नहीं रहना चाहिए - आकाश चोपड़ा

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

आकाश चोपड़ा के मुताबिक आरसीबी को दिग्गज प्लेयरों विराट कोहली और एबी डीविलियर्स पर निर्भर रहना स्वभाविक है लेकिन उन्हें केवल इन्हीं दो प्लेयर्स पर ही निर्भर नहीं रहना चाहिए।

उन्होंने कहा "आरसीबी विराट कोहली और एबी डीविलियर्स के बिना नहीं जीत सकती है। ये दोनों ही बहुत अच्छे प्लेयर हैं। अगर ये दोनों खिलाड़ी टीम में हैं तो आप चाहेंगे कि ये रन बनाएं और मैच जिताएं। ये अच्छी बात है लेकिन अगर टीम के पूरे डीएनए को देखें तो शायद इस टीम के अंदर सिर्फ यही विश्वास है कि अगर ये दोनों खिलाड़ी रन बनाएंगे तभी टीम जीतेगी। हालांकि इस टीम में स्टार प्लेयर्स की कमी नहीं है। आरोन फिंच और मोईन अली भी बेहतरीन प्लेयर हैं। क्विंटन डी कॉक भी इस टीम का हिस्सा रह चुके हैं लेकिन ये सभी कोहली और डीविलियर्स के शैडो में ही रहे।"

Published 07 Nov 2020, 13:20 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit