Create

"अगर विदेशी प्लेयर्स IPL में खेलने के लिए यूएई नहीं गए तो फिर उनकी सैलरी कट हो सकती है"

आईपीएल
आईपीएल
reaction-emoji
सावन गुप्ता

आईपीएल 2021 (IPL) के बचे हुए मुकाबले यूएई में खेले जाएंगे। बीसीसीआई ने इसका ऐलान कर दिया है। हालांकि इसमें विदेशी प्लेयर्स के खेलने को लेकर संशय है। कई सारे विदेशी खिलाड़ी शायद अपने इंटरनेशनल शेड्यूल की वजह से आईपीएल में हिस्सा ना ले पाएं। वहीं ये खबरें निकलकर सामने आ रही हैं कि अगर विदेशी खिलाड़ी आईपीएल के लिए यूएई नहीं गए तो फिर उनकी सैलरी कट हो सकती है।

इनसाइडस्पोर्ट की खबर के मुताबिक बीसीसीआई ऑफिशियल्स ने कहा है कि अगर विदेशी खिलाड़ी यूएई नहीं गए तो फिर उनकी सैलरी कट हो जाएगी। अगर खिलाड़ियों की सैलरी कट गई तो फिर उन्हें शायद आधे पैसे मिलें। जैसे कि केकेआर ने पैट कमिंस को 15 करोड़ 50 लाख की रकम में खरीदा था लेकिन अगर वो नहीं आए तो फिर उन्हें 7 करोड़ 75 लाख ही मिलेंगे।

ये भी पढ़ें: टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द सीरीज जीतने वाले 3 भारतीय खिलाड़ी

फ्रेंचाइज के पास सैलरी कट करने का अधिकार है - बीसीसीआई अधिकारी

बीसीसीआई के अधिकारी ने कहा "हां ये सही बात है। अगर कोई विदेशी प्लेयर यूएई में आईपीएल के लिए नहीं आता है तो फिर फ्रेंचाइज को हक होगा कि वो प्लेयर्स की सैलरी कट कर सकें और उन्हें केवल प्रो - राटा बेसिस पर ही पे करें।"

आईपीएल ऑक्शन के दौरान किसी प्लेयर के लिए जो सबसे ऊंची बोली लगती है वही उसकी सैलरी बन जाती है। इसमें टैक्स शामिल नहीं होते हैं। इस हिसाब से पैट कमिंस को आईपीएल 2021 सीजन के लिए 15 करोड़ 50 लाख की सैलरी मिलनी थी।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से आईपीएल 2021 को बीच में ही स्थगित करना पड़ा था। इसके बाद बचे हुए मैचों का आयोजन अब सितंबर में यूएई में कराने का फैसला किया गया है।

ये भी पढ़ें: वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा गेंद फेंकने वाले टॉप 3 गेंदबाज


Edited by सावन गुप्ता
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...