Create

IPL 2021 - गौतम गंभीर ने की आर अश्विन की आलोचना, कहा उन्हें ये समझने की जरूरत है कि वो एक ऑफ स्पिनर हैं

Nitesh
आर अश्विन का परफॉर्मेंस सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अच्छा नहीं रहा  (Photo Credit - IPLT20)
आर अश्विन का परफॉर्मेंस सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अच्छा नहीं रहा (Photo Credit - IPLT20)

पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ मुकाबले में दिग्गज गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के परफॉर्मेंस को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने रविचंद्रन अश्विन की काफी आलोचना की और कहा कि उन्हें एक ऑफ स्पिनर की तरह गेंदबाजी करनी चाहिए।

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुकाबले में रविचंद्रन अश्विन एक भी विकेट नहीं ले पाए। उन्होंने 2.5 ओवर में 22 रन दे दिए और इस दौरान नो बॉल भी डाले। अपनी गेंदबाजी के दौरान उन्होंने अलग-अलग तरह से बल्लेबाज को छकाने की कोशिश की। उन्होंने ऑफ स्पिन की बजाय कई तरह की गेंद डाली लेकिन इसके बावजूद उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला।

रविचंद्रन अश्विन को अपनी परंपरागत ऑफ स्पिन गेंद ही डालनी चाहिए - गौतम गंभीर

स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान गौतम गंभीर ने आर अश्विन की रणनीति पर सवाल उठाए और कहा कि उन्हें कुछ अलग करने की बजाय ऑफ स्पिन गेंदबाजी ही करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा "रविचंद्रन अश्विन इस वक्त दुनिया के सबसे बेहतरीन ऑफ स्पिनर हैं लेकिन उन्होंने ऑफ स्पिन गेंद डाली ही नहीं। उन्हें ये समझना जरूरी है कि वो एक ऑफ स्पिन गेंदबाज हैं। विरोधी टीम के तीन विकेट गिर चुके थे और ऐसे वक्त में ऑफ स्पिन सबसे शानदार विकल्प होता। ये बात सच है कि आप इंग्लैंड दौरे पर लगातार चार टेस्ट मैचों का हिस्सा नहीं थे और लंबे समय से क्रिकेट नहीं खेला है। लेकिन जब तक आपको छक्का ना लगे अपनी परम्परागत बॉलिंग ही करनी चाहिए।"

इससे पहले पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग ने भी अश्विन की गेंदबाजी पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा कि अश्विन अपनी गेंदबाजी में ज्यादा प्रयोग करने लगते हैं और इसी वजह से वो सफल नहीं हो पाते हैं।

क्रिकबज्ज लाइव पर बातचीत के दौरान सहवाग ने कहा कि अश्विन अपनी परम्परागत ऑफ स्पिन की बजाय दूसरी तरह की गेंद डालने लगते हैं और इसी वजह से उनको विकेट मिलने के आसार काफी कम हो जाते हैं। सहवाग के मुताबिक जब धोनी स्टंप के पीछे होते थे तो उनको ऐसा नहीं करने देते थे।

Quick Links

Edited by Nitesh
Be the first one to comment