Create
Notifications

IPL 2021 - 'अगर पंत रन नहीं लेते और अश्विन रनआउट होते, तो मोर्गन उन्‍हें दोबारा खेलने के लिए बुलाते?'

रविचंद्रन अश्विन और इयोन मोर्गन के बीच हुए विवाद का दृश्‍य
रविचंद्रन अश्विन और इयोन मोर्गन के बीच हुए विवाद का दृश्‍य
Vivek Goel
FEATURED WRITER

दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) और कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) के बीच हाल ही में आईपीएल (IPL) का मुकाबला खेला गया था, जिसमें एक अतिरिक्‍त रन को लेकर जमकर विवाद हुआ था। केकेआर के राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi) ने थ्रो फेंका था, जो ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को जाकर लगा और गेंद दूर चली गई। तब रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने एक अतिरिक्‍त रन लेने का कॉल किया था।

जब अश्विन आउट हुए तो केकेआर के गेंदबाज टिम साउदी और कप्‍तान इयोन मोर्गन भारतीय स्पिनर से भिड़ गए थे। ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर ब्रेड हॉग ने अतिरिक्‍त रन पर हुए विवाद को गैरजरूरी करार दिया है। हॉग के मुताबिक नियम बने हुए हैं और यही मायने रखते हैं।

इस विवाद पर अपने विचार रखते हुए हॉग ने कहा कि अगर पंत रन नहीं लेते और अश्विन रनआउट हो जाते तो मोर्गन क्‍या करते। पूर्व चाइनामैन ने ट्वीट किया, 'अगर पंत दूसरा रन लेने से इंकार कर देते और अश्विन रनआउट हो जाते तो क्‍या मोर्गन उन्‍हें दोबारा उन्‍हें खेलने के लिए बुलाते? बिना लिखे नियम को खत्‍म करना चाहिए और कानून के मुताबिक खेलना चाहिए।'

If Pant (knowing the throw hit him) turned his back on Ashwin who looking for the second had to retreat causing a run out would Morgan have called him back?Unwritten rules should be scraped, play to the laws. #IPL2021 https://t.co/fMSO63bZza

रविचंद्रन अश्विन ने अपनी बात पर स्‍टैंड लेते हुए ट्विटर पर लंबा पोस्‍ट किया और विवाद पर सवाल किया। उल्‍लेखनीय है कि जब अश्विन ने मोर्गन का विकेट लिया तो बहुत जोशीला जश्‍न मनाया और केकेआर के कप्‍तान को डगआउट भेजा। इस मैच में केकेआर विजेता बना था।

सहवाग ने अश्विन-मोर्गन विवाद के लिए कार्तिक को दोषी ठहराया

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग ने अश्विन-मोर्गन विवाद का दोषी दिनेश कार्तिक को ठहराया। सहवाग के मुताबिक कार्तिक को अश्विन-मोर्गन के बीच हुए विवाद की पूरी जानकारी नहीं देना चाहिए थी।

क्रिकबज से बातचीत करते हुए सहवाग ने कहा, 'मैं इस पूरे मामले में सबसे बड़ा दोषी दिनेश कार्तिक को मानता हूं। अगर वो नहीं बताता कि मोर्गन ने क्‍या कहा था तो इतना हंगामा नहीं होता। अगर वो ये कहता कि ज्‍यादा कुछ नहीं, बस बहस हुई थी, मैच में ऐसा हो जाता है, तो इतना बखेड़ा खड़ा नहीं होता। यह बताने की क्‍या जरूरत थी कि कोई क्‍या सोचता है या कुछ?'

मैच के बाद दिनेश‍ कार्तिक ने बताया था कि अश्विन-मोर्गन के बीच एक अतिरिक्‍त रन को लेकर विवाद हुआ था। उन्‍होंने पूरा मामला बताया था।

सहवाग ने कहा, 'खेल भावना यह भी कहती है कि खिलाड़‍ियों को मैदान के अंदर ही वो बात भूल जाना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए।'


Edited by Vivek Goel
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now