Create

IPL 2021 - 'सनराइजर्स हैदराबाद के साथ बहुत सारी समस्‍याएं हैं'

सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल 2021 की अंक तालिका में आखिरी स्‍थान पर रही
सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल 2021 की अंक तालिका में आखिरी स्‍थान पर रही
Vivek Goel

भारतीय टीम (India Cricket team) के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज दीप दासगुप्‍ता (Deep Dasgupta) का मानना है कि सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) खेमे में पर्दे के पीछे काफी समस्‍याएं हैं। दीप दासगुप्‍ता को लगता है कि यही वजह है कि आईपीएल 2021 (IPL 2021) में सनराइजर्स हैदराबाद का प्रदर्शन फ्लॉप रहा है।

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम का आईपीएल 2021 में बेहद खराब प्रदर्शन रहा और वह तीन जीत के साथ अंक तालिका में आखिरी स्‍थान पर रही। फ्रेंचाइजी ने बीच सीजन में डेविड वॉर्नर को कप्‍तानी से हटाया और फिर उनको प्‍लेइंग 11 से ड्रॉप कर दिया।

केन विलियमसन को कप्‍तानी सौंपी गई, लेकिन इस बदलाव से हैदराबाद को ज्‍यादा सफलता नहीं मिली और उसने लगातार शिकस्‍त झेली। दासगुप्‍ता का मानना है कि अगर ड्रेसिंग रूम का माहौल अच्‍छा नहीं है तो टीम अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर सकती है, फिर यह मायने नहीं रखता कि खिलाड़‍ी कितना बेहतर ही क्‍यों न हो।

दासगुप्‍ता का मानना है कि सनराइजर्स हैदराबाद को ज्‍यादा खिलाड़‍ियों को रिटेन करने पर ध्‍यान नहीं देना है और नीलामी में वह नए खिलाड़‍ियों को अपने साथ जोड़ सकती है।

अपने यूट्यूब चैनल पर दीप दासगुप्‍ता ने कहा, 'पहले चरण से काफी हद तक साफ हो गया था कि चीजें सही नहीं है। किसी भी फ्रेंचाइजी में अगर कप्‍तान को बीच सीजन बदला जाए और फिर आपके प्रमुख खिलाड़ी को टीम से बाहर कर दिया जाए, तो इसका मतलब है कि ड्रेसिंग रूम में कुछ गड़बड़ है।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'एसआरएच के लिए अच्‍छी चीज ये है कि यह उनका एक खराब सीजन रहा। उनका प्रदर्शन निरंतर रहा है, लेकिन अब फ्रेंचाइजी में कुछ बदलाव होंगे। उनके पास ज्‍यादा खिलाड़ी शायद नहीं, जिन्‍हें वो रिटेन करें। कई खिलाड़ी अपने फॉर्म में नहीं तो युवाओं का भी अच्‍छा विकास नहीं हुआ।'

डेविड वॉर्नर ने तो सोशल मीडिया पर विदाई संदेश भी फैंस के नाम लिख दिया, जिससे संकेत मिले कि फ्रेंचाइजी के साथ उनका सफर समाप्‍त हो गया और वह अब नीलामी में आएंगे।

आईपीएल 2021 के प्‍लेऑफ में सीएसके के साथ लय नहीं: दासगुप्‍ता

दीप दासगुप्‍ता ने इसके अलावा चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के बारे में भी अपने विचार प्रकट किए। सीएसके को पिछले तीन मैचों में लगातार शिकस्‍त मिली। हालांकि, प्‍लेऑफ में वो पहली टीम थी, जिसने अपनी जगह पक्‍की की थी।

दासगुप्‍ता का मानना है कि सीएसके अपने ओपनर्स पर काफी हद तक निर्भर है। उन्‍होंने बताया कि सीएसके का मिडिल ऑर्डर अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर रहा है। दासगुप्‍ता ने कहा, 'सीएसके पहले चरण में सबसे बड़ी आश्‍चर्यचकित टीम थी, लेकिन उनका मिडिल ऑर्डर चिंता का विषय बन गया है। उन्‍हें लगातार तीन शिकस्‍त मिली हैं तो लय उनके साथ नहीं है। मिडिल ऑर्डर ने टुकड़ों में रन जुटाए हैं। जडेजा ने कुछ अहम पारियां खेली, लेकिन उनके अलावा किसी ने उम्‍दा योगदान नहीं दिया।'

दासगुप्‍ता ने आगे कहा, 'दूसरे चरण में मोइन अली का बल्‍ला नहीं चला। सीएसके खेमे के लिए अच्‍छी बात उनका अनुभव है। यह काफी मूल्‍यवान है और इससे उन्‍हें वापसी करने में मदद मिल सकती है।' सीएसके की टीम पहले क्‍वालीफायर में दिल्‍ली कैपिटल्‍स का सामना करेगी।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...