Create

आईपीएल: 3 खिलाड़ी जिन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम छोड़ने के बाद शानदार प्रदर्शन किया

Royal Challengers Banglore

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर इंडियन प्रीमियर लीग की सबसे चर्चित टीमों में से एक है। इस टीम का प्रतिनिधित्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली करते हैं। यह टीम 3 बार (2009, 2011 और 2016) आईपीएल के फाइनल में पहुंच चुकी है जबकि 5 बार प्लेऑफ में पहुंच चुकी है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अभी तक एक भी बार खिताब हासिल नहीं किया है।

राहुल द्रविड़, केविन पीटरसन, अनिल कुंबले, डेनियल विटोरी और शेन वॉटसन जैसे दिग्गज इस टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। कई खिलाड़ियों ने इस टीम से लेकर राष्ट्रीय टीम तक का सफर तय किया है लेकिन वहीं कई ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने जब तक इस टीम की ओर से खेला वे फ्लॉप साबित हुए लेकिन जैसे ही वे किसी अन्य फ्रेंचाइजी की ओर से खेलने गए उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया।

आज हम ऐसे ही 5 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम छोड़ने के बाद शानदार प्रदर्शन किया।

#3.केएल राहुल:

KL Rahul RCB

केएल राहुल ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत 2013 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से किया था। तब वह मध्यक्रम बल्लेबाज के रुप में खेला करते थे। 2013 में उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से उन्हें 5 मैच खेलने का मौका मिला जिसमें उन्होंने 10 की औसत से मात्र 20 रन बनाए।

इसके बाद वे 2015 और 2016 में सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्सा रहे। उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से कुल मिलाकर 20 मैच खेले जिसमें उन्होंने 308 रन बनाए।

लोकेश राहुल एक बार फिर 2016 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के टीम का हिस्सा बने। उन्होंने उस सीजन 14 मैचों में 44.11 की औसत से 397 रन बनाए। साल 2017 में चोटिल होने के कारण वे पूरे सीजन आईपीएल से बाहर रहे।

साल 2018 में उन्हें किंग्स इलेवन पंजाब ने 11 करोड़ की बड़ी कीमत पर खरीदकर अपने टीम में शामिल किया। उन्होंने उस सीजन टीम के लिए ओपनिंग करना शुरू किया। इस सीजन केएल राहुल ने अपने बल्ले से खूब धमाल मचाया। उन्होंने इस सीजन 14 मैचों में 54.91 की औसत से 659 रन बनाए। वे इस सीजन भी अब तक खेले गए 10 मैचों में 57.0 की औसत से 399 रन बनाए जिसमें एक शतक और 4 अर्धशतक शामिल है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2. शेन वॉटसन:

Shane Watson RCB

शेन वॉटसन को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने साल 2016 के ऑक्शन में 9.5 करोड़ रुपये देकर खरीदा था। विराट कोहली की गैरहाजिरी में उन्होंने शुरुआती कुछ मैचों में कप्तानी भी किया था लेकिन वे असफल रहे।

शेन वॉटसन ने साल 2016 में गेंदबाजी में तो अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन बल्लेबाजी में वे फ्लॉप साबित हुए। उन्होंने उस सीजन गेंदबाजी करते हुए 16 मैचों में 24.25 की औसत से 20 विकेट चटकाए थे लेकिन बल्लेबाजी करते हुए 13.76 की औसत से मात्र 179 रन ही बना सके।

साल 2017 में उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने फिर रिटेन किया। उस सीजन उन्होंने कुल 8 मैच खेले जिसमें वे मात्र 5 विकेट ही चटका सके और 71 रन बना सके। इस खराब प्रदर्शन के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उन्हें रिलीज कर दिया। जिसके बाद साल 2018 में उन्हें 4 करोड़ रुपये में चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीद लिया।

साल 2018 में उन्होंने 15 मैचों में 39.64 की औसत से 555 रन बनाए जिसमें 2 शतक और 2 अर्धशतक शामिल थे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 159.54 था।

#1. दिनेश कार्तिक:

Dinesh Karthik RCB

कोलकाता नाइटराइडर्स के वर्तमान कप्तान दिनेश कार्तिक ने दिल्ली डेयरडेविल्स टीम की ओर से अपना आईपीएल करियर शुरू किया था। इसके बाद वे किंग्स इलेवन पंजाब, मुंबई इंडियंस और गुजरात लायंस जैसे टीमों का भी हिस्सा रहे हैं। वे 2015 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। वे उन्होंने उस सीजन कुल 16 मैच खेले थे जिसमें उन्होंने 12.81 की औसत से मात्र 141 रन बनाए थे।

साल 2016 में नई टीम गुजरात लायंस ने इन्हें 2.3 करोड़ रुपये में खरीदकर अपनी टीम में शामिल किया। उन्होंने उस सीजन 16 मैचों में 25.76 की औसत से 335 रन बनाए। जबकि साल 2017 में 14 मैच खेलते हुए उन्होंने 36.10 की औसत से 361 रन बनाए।

2018 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्हें 7.40 करोड़ रुपये की बड़ी कीमत में खरीदा और कप्तान नियुक्त किया। उन्होंने साल 2018 में 16 मैचों में 49.80 की औसत से 498 रन बनाए।

दिनेश कार्तिक भी उन खिलाड़ियों में शामिल हैं जिनका करियर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम छोड़ने के बाद चमका है।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment