Create

आईपीएल नीलामी 2019: हर टीम के लिए एक विदेशी खिलाड़ी जो सही विकल्प हो सकता है

Image result for dale steyn

विदेशी खिलाड़ी किसी भी आईपीएल टीम की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे हैं। नए नियमों के तहत, प्रत्येक टीम को अपनी टीम में आठ विदेशी खिलाड़ियों को रखने की अनुमति है और एक समय में वह किन्हीं चार खिलाड़ियों को अपनी अंतिम एकादश में चुन सकते हैं।

चूंकि आईपीएल नीलामी में काफी विदेशी खिलाड़ी हैं जो खरीद-फरोख्त के लिए उपलब्ध होंगे, लेकिन फ्रेंचाइजियों को उनमें से अपनी ज़रूरत के हिसाब से खिलाड़ियों को लक्षित करना होगा।

हालाँकि, आईपीएल नीलामी से पहले, अधिकांश टीमों ने पिछले सीज़न में चुने गए विदेशी खिलाड़ियों को अपनी टीम में बरकरार रखा है लेकिन, अपनी टीम के उचित संतुलन को बनाए रखने के लिए उन्हें केवल कुछ ही खिलाड़ियों को चुनने की जरूरत है।

ऐसे में, प्रत्येक टीम कम से कम एक विदेशी खिलाड़ी को नीलामी में खरीदना चाहेगी। तो आइये नज़र डालते हैं ऐसे विदेशी खिलाड़ियों पर :

नोट: आपको बता दें क्यूंकि चेन्नई सुपर किंग्स के पास पहले से ही 8 विदेशी खिलाड़ी मौजूद है इसलिए उन्हें इस सूची में शामिल नहीं किया गया हैै।

#1. कोलकाता नाइट राइडर्स - कार्लोस ब्रैथवेट

Related image

कोलकाता नाइट राइडर्स में पांच विदेशी खिलाड़ियों के स्लॉट खाली पड़े हैं जिसके लिए उन्हें उचित खिलाड़ियों का चुनाव करना है। इनमें से एक खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें केकेआर अपनी टीम में लाने की पूरी कोशिश करेगी। वह खिलाड़ी हैं वेस्टइंडीज़ के टी-20 कप्तान- कार्लोस ब्रैथवेट।

वैसे तो कोलकाता के पास आंद्रे रसेल जैसे बेहतरीन आलराउंडर मौजूद हैं लेकिन उनके बैकअप के तौर पर टीम को उनके जितना ही प्रतिभाशाली खिलाड़ी चाहिए। तो इस भूमिका के लिए कार्लोस ब्रैथवेट से बढ़िया कोई विकल्प नहीं हो सकता। दोनों विंडीज़ क्रिकेटर बेहतरीन हरफनमौला खिलाड़ी हैं और हरेक टीम उन्हें अपने पक्ष में शामिल करना पसंद करेगी।

इसके अलावा, ब्रैथवेट का ईडन गार्डन में ज़बरदस्त रिकार्ड रहा है और 2016 के आईसीसी विश्व टी-20 फाइनल को कौन भूल सकता है जब उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में अंतिम ओवर में लगातार 4 छक्के लगाकर अपनी टीम को विश्व विजेता बनाया था। कोलकाता फ्रैंचाइज़ी ऐसे खिलाड़ी को अपनी टीम में बिलकुल शामिल करना चाहेगी।

#2. दिल्ली डेयरडेविल्स - आरोन फिंच

Image result for aaron finch

आरोन फिंच ने अतीत में कई आईपीएल टीमों के लिए खेला है और दिल्ली डेयरडेविल्स उनमें से एक हैं। आईपीएल 2019 में इसकी पूरी संभावना है कि वह दोबारा दिल्ली टीम का हिस्सा बनेंगे।

दिल्ली डेयरडेविल्स के पास ज़्यादातर युवा खिलाड़ी हैं और उनका सही मार्गदर्शन करने के लिए कोई ऐसा खिलाड़ी टीम में चाहिए जो दबाव की स्थिति में उनमें अच्छा प्रदर्शन करने का हौसला और जीत की भूख जगा सके। ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी बल्लेबाज़ आरोन फिंच इसके लिए एकदम फिट होंगे।

#3. राजस्थान रॉयल्स - डेल स्टेन

Image result for dale steyn

राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल नीलामी से पहले अपने विदेशी खिलाड़ियों, जिनमें स्टीव स्मिथ, जोस बटलर, बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर और ईश सोढ़ी शामिल हैं, को टीम में बरकरार रखा है। लेकिन टीम के तेज गेंदबाजी विभाग में अनुभव की कमी साफ दिखाई पड़ती है।

इसको ध्यान में रखते हुए, दक्षिण अफ्रीका के तेज़ गेंदबाज़ रॉयल्स के लिए उपयुक्त विकल्प होंगे। स्टेन के टीम में आने से उनकी एक बेहतरीन विदेशी तेज़ गेंदबाज़ की कमी पूरी हो जाएगी। फिलहाल, रॉयल्स के पास जोफ्रा आर्चर के रूप में एकमात्र विदेशी तेज गेंदबाज हैं और उनके जोड़ीदार के तौर पर डेल स्टेन से बेहतर और कौन हो सकता है।

#4. सनराइज़र्स हैदराबाद - ब्रेंडन मैकलम

Image result for brendon mccullum

सनराइजर्स हैदराबाद को उस समय भारी झटका लगा जब उनके स्टार सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने टीम छोड़ने का फैसला किया। इसलिए सनराइज़र्स अब उनके प्रतिस्थापन की तलाश में हैं।

ऐसी स्थिति में, न्यूज़ीलैंड के विस्फोटक बल्लेबाज़ ब्रेंडन मैकलम उनके लिए एक शानदार विकल्प साबित हो सकते हैं। इस सीज़न में डेविड वार्नर भी वापसी करने वाले हैं और इस तरह से यह दोनों बल्लेबाज़ पारी की शुरुआत करने उतर सकते हैं। वैसे भी बाएं और दाएं हाथ का बल्लेबाज़ी संयोजन हमेशा विरोधी टीमों के लिए घातक साबित होता है। इसके अलावा, मैकलम अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेलते और वह पूरे सीजन में सनराइजर्स के लिए उपलब्ध रहेंगे।

#5. किंग्स इलेवन पंजाब - ओशैन थॉमस

Image result for oshane thomas

इस अक्टूबर वेस्टइंडीज़ के भारत दौरे पर ओशैन थॉमस ने काफी प्रभावशाली गेंदबाज़ी की थी। क्रिकेट विशेषज्ञों ने 1970 के दशक के विंडीज़ तेज गेंदबाजों के साथ थॉमस की तुलना की और वह इस समय लगभग 140 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से ज्यादा तेज गेंदबाज़ी कर रहे हैं ।

मौजूदा किंग्स इलेवन पंजाब टीम को अच्छे तेज़ गेंदबाजों की कमी का सामना करना पड़ रहा है और थॉमस उनकी समस्याओं के समाधान के लिए एकदम उपयुक्त विकल्प हैं।

भारत के खिलाफ हाल ही में संपन्न वनडे श्रृंखला में उन्होंने यहां की धीमी पिचों पर भी ज़बरदस्त गेंदबाज़ी की थी। इसलिए, पंजाब फ्रैंचाइज़ी हर हाल में थॉमस को अपनी टीम में शामिल करना चाहेगी।

#6. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर - मोर्न मोर्केल

Related image

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर हमेशा एक औसत गेंदबाजी पक्ष रहा है और अभी तक उनके हिस्से में एक भी आईपीएल खिताब नहीं आया है। उनके तेज गेंदबाजों ने काफी रन लुटाये और बल्लेबाजों ने पूरी ज़िम्मेवारी से अपनी भूमिका नहीं निभाई, जिसकी वजह से आरसीबी अभी तक आईपीएल विजेता बनने से वंचित रही है।

इसलिए आगामी आईपीएल नीलामी में वह एक बेहतरीन तेज गेंदबाज की तलाश में हैं जो उनके गेंदबाज़ी आक्रमण की कमान संभाल सके। ऐसी स्थिति में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व गेंदबाज़ मोर्ने मोर्केल उनके लिए उपयुक्त विकल्प हो सकते हैं।

लंबे कद के मोर्केल अपने बाउंस और यॉर्कर्स के साथ विपक्षी बल्लेबाज़ों को परेशान कर सकते हैं। नई गेंद के साथ वह विकेट निकलने में भी सक्षम हैं। इसके अलावा, चूंकि मॉर्केल ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया है इसलिए वह आरसीबी को पूरे सीज़न के लिए अपनी सेवाएं दे सकते हैं।

#7. मुंबई इंडियंस - ग्लेन मैक्सवेल

Enter caption
Enter caption

सात विदेशी खिलाड़ियों को टीम में रिटेन करने के बाद मुंबई इंडियंस अब सिर्फ एक और विदेशी खिलाड़ी को टीम में चुन सकते हैं। उनकी टीम लगभग सभी पहलुओं में सम्पूर्ण है लेकिन फिर भी उन्हें एक ऐसे खिलाड़ी की तलाश है जो टीम को संतुलन प्रदान कर सके। इसके लिए ऑस्ट्रेलिया के विस्फोटक बल्लेबाज़ और स्पिनर ग्लेन मैक्सवेल से बढ़िया खिलाड़ी और कौन हो सकता है।

मुंबई इंडियंस के विदेशी दल में दो सलामी बल्लेबाज (एविन लेविस और क्विंटंन डी कॉक), दो गेंदबाज़ी ऑलराउंडर्स (किरोन पोलार्ड और बेन कटिंग) और तीन तेज गेंदबाज (मिचेल मैक्लेनेघन, जेसन बेहरनडॉर्फ और एडम मिलने) शामिल हैं, लेकिन,ग्लेन मैक्सवेल के आने से टीम में एक बढ़िया आलराउंडर की कमी पूरी हो जाएगी।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment