इरफान पठान ने लार पर लगे बैन को लेकर दी प्रतिक्रिया

इरफान पठान
इरफान पठान

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान का माननै है कि आईसीसी को गेंद पर लार लगाने से बैन लगाने के बाद अब गेंदबाजों की मदद वाली विकेट तैयार करने पर जोर देना चाहिए। इरफान पठान को लगता है कि लार पर प्रतिबंध लगने से गेंदबाजों को काफी नुकसान होगा। तेज गेंदबाजों को मैच में जीवित रखने के लिए उनके मददगार विकेट बनाने की जरूरत है।

आईसीसी ने हाल ही में कोरोनावायरस को देखते हुए नियमों में अहम बदलाव किया और गेंद के ऊपर लार लगाने को प्रतिबंधित कर दिया।

यह भी पढ़ें: भारत के लिए वनडे में 10 से ज्यादा बार 0 पर आउट होने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट

इरफान पठान ने पीटीआई से बात करते हुए कहा,

"आपको इस बात को सनुश्चित करना होगा कि अगर गेंदबाज गेंद के ऊपर लार नहीं लगा सकते, तो हालात गेंदबाजों के पक्ष में होना चाहिए। अगर आप गेंद को शाइन नहीं कर सकते, तो गेंदबाजों को काफी नुकसान होगा। गेंद को अगर स्विंग ही नहीं करा पाएंगे, तो बल्लेबाजों के लिए डर खत्म हो जाएगा। सिर्फ गति के साथ परेशान नहीं किया जा सकता, इसमें स्विंग और पेस का मिश्रण रहता है।

आपको बता दें कि इस समय विश्वभर में कोरोना बुरी तरह से फैला हुआ है। हर एक देश इस खतरनाक बीमारी से लड़ रहा है। इसी वजह से क्रिकेट समेत दूसरे खेलों पर रोक लगी हुई है। पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले के नेतृत्व वाली आईसीसी क्रिकेट कमेटी ने यह सुझाव दिया था।

कुंबले ने इसको लेकर कहा था,

"हम असाधारण समय से गुजर रहे हैं और समिति ने आज जो सिफारिशें की हैं, वे अंतरिम उपाय हैं जिनसे हम क्रिकेट को सुरक्षित तरीके से फिर से शुरू कर सकें, ताकि हमारे खेल के सार को संरक्षण दिया जा सके। .

भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले इरफान पठान को लगता है कि क्रिकेट के सबसे बड़े प्रारूप में इसका प्रभाव काफी ज्यादा पड़ेगा। उन्हें लगता है कि वनडे में गेंदबाज ज्यादा गेंद को शाइन वैसे भी नहीं करते हैं, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में गेंद की एक साइड को शाइन करना काफी महत्वपूर्ण होता है। इरफान पठान ने यह भी सुझाव दिया कि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे विकेट की जरूरत है।

इरफान पठान के अलावा भारतीय टीम के दिग्गज ऑफ स्पिनर ने भी आईसीसी के इस फैसले पर काफी हैरानी जताई है। हरभजन सिंह के मुताबिक इससे तेज गेंदबाजों और स्पिनर्स के लिए काफी दिक्कतें बढ़ने वाली हैं। उनके मुताबिक यह बैन कम समय के लिए ही रहना चाहिए और यह पर्मानेंट सोल्यूशन नहीं हो सकता।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
App download animated image Get the free App now