Create

लाहिरू कुमारा और लिटन दास ने मामला सुलझा लिया, चामिंडा वास ने किया खुलासा

लाहिरू कुमारा और लिटन दास के बीच जोरदार विवाद हुआ था
लाहिरू कुमारा और लिटन दास के बीच जोरदार विवाद हुआ था
Vivek Goel

श्रीलंका (Sri Lanka Cricket team) के तेज गेंदबाजी कोच चामिंडा वास (Chaminda Vaas) ने खुलासा किया है कि लाहिरू कुमारा (Lahiru Kumara) और बांग्‍लादेशी (Bangladesh Cricket team) बल्‍लेबाज लिटन दास (Liton Das) ने मैदान में हुए विवाद को सुलझा लिया है।

बांग्‍लादेश और श्रीलंका के बीच टी20 वर्ल्‍ड कप मैच के दौरान लाहिरू कुमारा और लिटन दास के बीच विवाद हो गया था। वास ने न्‍यूजवायर को बताया कि दोनेां क्रिकेटर्स मैच के बाद मिले और अपना झगड़ा सुलझा लिया।

मैदान में हुई झड़प पर वास ने कहा कि खेल के लिए आक्रमकता जरूरी है, लेकिन किसी को आक्रामकता को विकेट सुरक्षित करने के लिए उपयोग करना चाहिए। वास ने कहा, 'यह अनचाही घटना थी। मैंने उनसे बात की और उसने अपनी गलती स्‍वीकार की।'

वास ने आगे कहा कि फालतू मामलों पर आक्रमकता दिखाना गलत है, जिस पर जुर्माना या फिर प्रतिबंध झेलना पड़े। वास ने कहा, 'मौजूदा श्रीलंकाई क्रिकेटर्स प्रतिभाशाली हैं। वो कोई मैच हारना नहीं चाहते और इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। वो लगातार जनता का विश्‍वास जीतने की कोशिश में जुटे हैं। इस कारण मैच के दौरान कुछ आक्रमकता आ जाती है।' उन्‍होंने साथ ही कहा कि क्रिकेटर्स टूर्नामेंट के दौरान अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन देने की कोशिश कर रहे हैं।

आईसीसी ने लगाया जुर्माना

बांग्लादेश और श्रीलंका के मैच के दौरान लिटन दास और लाहिरू कुमारा मैदान पर ही भिड़ गए थे और माहौल भी गर्म हो गया था। इसका संज्ञान लेते हुए आईसीसी ने दोनों पर कार्रवाई करते हुए फाइन लगाया है। लेवल 1 का दोषी मानते हुए कुमारा के ऊपर 25 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाया गया है वहीँ लिटन दास के ऊपर 15 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाया गया है।

आईसीसी ने अपने बयान में कहा कि कुमारा को खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के लिए आईसीसी की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.5 के उल्लंघन का दोषी पाया गया था, जो 'भाषा, कार्यों या इशारों का उपयोग करने से संबंधित है जो अपमान करते हैं, या जो एक अंतरराष्ट्रीय मैच में बल्लेबाज को आक्रामक प्रतिक्रिया के लिए उकसा सकते हैं। दास को खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ से सम्बंधित आईसीसी की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.20 के उल्लंघन का दोषी पाया गया, जो खेल भावना के विपरीत आचरण से संबंधित है।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...