Create

सिडनी टेस्ट में शतक लगाने वाले जॉनी बेयरस्टो की प्रशंसा करते हुए, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

Australia v England - 4th Test: Day 3
Australia v England - 4th Test: Day 3

सिडनी में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच (AUS vs ENG) में जॉनी बेयरस्टो (Johnny Bairstow) ने शानदार बल्लेबाजी का नजारा पेश किया और शतक जड़ दिया। बेयरस्टो की शतकीय पारी से पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइकल हसी भी काफी प्रभावित नजर आये और उन्होंने इस बल्लेबाज को सराहा। साथ ही उन्होंने इस बात का भी का जिक्र किया कि बेयरस्टो ने जिस एप्रोच से नाथन लियोन के सामने बल्लेबाजी की, वह काफी दिलचस्प था।

चौथे टेस्ट में इंग्लैंड की शुरुआत फिर खराब रही और टीम 36 के स्कोर पर 4 विकेट खोकर मुश्किल में थी। यहां से बेयरस्टो ने स्टोक्स के साथ मिलकर अच्छी साझेदारी निभाई और दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 128 रन जोड़े। इस साझेदारी को लियोन ने स्टोक्स को 66 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर आउट कर तोड़ा।

दूसरी तरफ, बेयरस्टो एक छोर पर डटे रहे और उन्होंने आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए टेस्ट क्रिकेट में अपना सातवां शतक जड़ दिया। 103 रन बनाकर क्रीज़ पर मौजूद यह बल्लेबाज अपनी पारी में 8 चौके और 3 छक्के जड़ चुका है।

क्रिकबज पर सिडनी टेस्ट के तीसरे दिन के खेल का रिव्यु करते हुए माइकल हसी ने कहा,

जिस तरह से उन्होंने नाथन लियोन पर अटैक करने और उन्हें दबाव में लाने की कोशिश की वह वाकई दिलचस्प था। इस तरह उनकी पारी आगे बढ़ी। और शुक्र है कि उन्होंने खेल समाप्त होने से पहले अपना शतक पूरा किया। इसने इंग्लैंड को इस टेस्ट मैच में थोड़ा मौका दिया है।

बेयरस्टो और स्टोक्स ने मैच का रूख मोड़ दिया - माइकल हसी

हसी ने बताया कि बेयरस्टो और स्टोक्स की साझेदारी ने इंग्लैंड की वापसी करवाई। उन्होंने कहा,

ऐसा लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड को हरा देगा और बड़ी बढ़त ले लेगा। स्टोक्स और बेयरस्टो ने जिस तरह से यह साझेदारी की, उसने रुख मोड़ दिया। यह बेयरस्टो का एक शानदार प्रयास था, वह अंत में पूरी तरह से शतक के हकदार थे।

इंग्लैंड ने 258/7 के स्कोर पर दिन का खेल समाप्त किया, हालाँकि टीम अभी 158 रनों से पीछे और तीन विकेट अभी भी शेष हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि बेयरस्टो निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ चौथे दिन कैसा प्रदर्शन करते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment