Create

मुस्ताफ़िज़ुर रहमान की टेस्ट फॉर्मेट में वापसी को लेकर बांग्लादेश के कप्तान ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

मुस्ताफ़िज़ुर रहमान - बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Image - Google)
मुस्ताफ़िज़ुर रहमान - बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Image - Google)

बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्ताफ़िज़ुररह मान (Mustafizur Rahman) काफी लंबे वक्त से टेस्ट क्रिकेट टीम का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच पिछले साल फरवरी में खेला था। अब उनके टेस्ट टीम में चयन को लेकर बांग्लादेश टेस्ट क्रिकेट (Bangladesh Cricket Team) टीम के कप्तान मोमिनुल हक (Mominul Haque) ने कहा कि, टेस्ट फॉर्मेट में मुस्ताफ़िज़ुर रहमान के चयन को लेकर हमारे थिंक टैंक (चयनकर्ताओं) को उनके फिटनेस समेत कुछ अन्य चीजों का ध्यान रखना होगा।

मुस्ताफ़िज़ुर रहमान के बारे में आपको बता दें कि उन्होंने साल 2015 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था। उस वक्त से लेकर अभी तक बांग्लादेश ने 39 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें से रहमान को सिर्फ 14 मैचों में खेलने का मौका मिला है। उन्होंने पिछले साल की फरवरी के बाद से कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है। हालांकि अब उनके टेस्ट टीम में वापसी को लेकर चर्चा हो रही है लेकिन पूरा मामला उनकी फिटनेस को लेकर अटका हुआ है।

क्या मुस्ताफ़िज़ुर की होगी टेस्ट में वापसी?

अब मुस्ताफ़िज़ुर रहमान की वापसी की चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले बांग्लादेश के दो लीडिंग पेस बॉलर्स तस्कीन अहमद और शोरीफुल इस्लाम चोटिल होकर सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

इन दो तेज गेंदबाजों के अलावा अबु जायेद (Abu Jayed) को भी हाल ही में श्रीलंका के साथ हुई टेस्ट सीरीज के दौरान ड्रॉप किया गया है। इसके अलावा बांग्लादेश के इस तेज गेंदबाज को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड की तरफ से समन भी किया गया है, क्योंकि उन्होंने बोर्ड द्वारा उनको टीम से ड्रॉप किए जाने वाले फैसले पर सवाल उठाए थे। इस वजह से अब बांग्लादेश क्रिकेट टीम को मुस्ताफ़िज़ुर रहमान की जरूरत पड़ रही है। श्रीलंका के साथ हुए पहले टेस्ट मैच के ड्रॉ होने के बाद बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने रिपोर्टर्स से बातचीत करते हुए कहा कि,

अगर उन्हें (मुस्ताफ़िज़ुर रहमान) को टीम में शामिल किया जा रहा है, या मैं उनकी मांग कर रहा हूं तो वो अपने-आप ही नेचुरल गेम खेलेंगे।

बांग्लादेश टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान ने आगे कहा कि,

सबसे पहले आपको यह देखना होगा कि मुस्ताफ़िज़ुर रहमान ने कितने दिन रेड-बॉल क्रिकेट खेली और कितने दिन नहीं खेली है। उसके बाद उनके फिटनेस इश्यू समेत कई अन्य चीजों पर भी गौर करना जरूरी है। अगर हमें उनकी जरूरत हैं, तो हम उन्हें खिलाएंगे क्योंकि हम अपने कुछ लीडिंग गेंदबाजों को मिस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि,

मुझे नहीं पता है कि मुस्ताफ़िज़ुर रहमान ने कितने टेस्ट मैच खेले हैं, और अगर मैं ईमानदारी से बात करूं तो बांग्लादेश में कोई भी तेज गेंदबाज अनुभवी नहीं है और यह सच है। मुझे लगता है कि तेज गेंदबाजों के लिए अनुभव ज्यादा मायने नहीं रखता है।

मोमिनुल हक ने बताया कि बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड रहमान के साथ उनके लॉन्ग फॉर्मेट के प्लान्स के बारे में चर्चा करेगा, क्योंकि बोर्ड चाहता है कि वह टेस्ट फॉर्मेट में भी खेलें।

वेस्टइंडीज दौरे पर जाएगी बांग्लादेश

आपको बता दें कि पिछले महीने बीसीबी के अध्यक्ष नज़मुल हसन ने भी कहा था कि अगर टीम को मुस्ताफ़िज़ुर रहमान की जरूरत पड़ेगी तो उन्हें टेस्ट क्रिकेट खेलना पड़ेगा।

बांग्लादेश क्रिकेट टीम 6 जून को दो टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए वेस्टइंडीज रवाना हो जाएगी। अब देखना होगा कि मुस्ताफ़िज़ुर रहमान का टेस्ट टीम में चयन होता है या नहीं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment