'इंडिया-पाकिस्तान की सीरीज केवल सौरव गांगुली करवा सकते हैं', पाकिस्तान के दिग्गज का चौंकाने वाला बयान

Rahul
भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2012-13 के बाद से एक भी द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली गई है
भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2012-13 के बाद से एक भी द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली गई है

पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) के विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल (Kamran Akmal) ने भारत (Indian Cricket Team) और पाकिस्तान के बीच होने वाली भविष्य के मैचों को लेकर उम्मीद जताई है। बीसीसीआई (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का हवाला देते हुए कहा कि वह भी इन दो देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज देखना चाहते हैं। भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2012-13 के बाद से एक भी द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली गई है। दोनों देशों के बीच राजनीती तनाव के कारण यह मुमकिन नहीं हो पा रहा है। हालांकि आईसीसी टूर्नामेंट में टीम इंडिया और पाकिस्तान के बीच कई बार मुकाबले देखने को मिले हैं।

यह भी पढ़ें - मुनाफ पटेल ने किया खुलासा, 2011 विश्व कप में मोहम्मद हफीज को कही थी बड़ी बात

कामरान अकमल ने सौरव गांगुली के किरदार को अहम समझते हुए कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली के ऊपर सबसे ज्यादा दारोमदार है। क्योंकि उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ बहुत सारे मुकाबले खेलें हैं और वह इन दोनों देशों के बीच होने वाले मुकाबलों को समझते हैं कि इन मैचों से कैसे दोनों देशों के बीच के रिश्ते अच्छे हो सकते हैं। मुझे लगता है कि वह भी भारत-पाकिस्तान के बीच सीरीज देखना चाहते हैं। मैं उनके साथ खेला हूँ और मैं समझता हूँ कि वह इस बारे में जरुर सोचते होंगे।

यह भी पढ़ें - "कोई रोहित शर्मा से कहो कि स्माइल करना 'Cool' होता है"

कामरान अकमल ने इस सन्दर्भ में आगे कहा कि मौजूदा दौर के खिलाड़ी भी चाहते होंगे कि भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबले फिर से शुरू हो। हालांकि ये सभी खिलाड़ी खुलकर इस मुद्दे पर अपनी राय नहीं रख सकते क्योंकि उनकी राय पर कोई न कोई मसला खड़ा हो जायेगा। दोनों मुल्कों के खिलाड़ी इस पहल के लिए पहला कदम नहीं उठा सकते। आईसीसी भी इन दोनों देशों के बीच सीरीज करवाने में अपना रोल निभा सकती है और उन्हें भी इन दोनों देशों के बीच मुकाबले शुरू करवाने चाहिए। खासतौर पर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबले देखने को मिल सकते हैं और ऐसा करने से ही दोनों देशों के बीच रिश्ते अच्छे हो सकते हैं।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment