CWC 2023: क्विटंन डी कॉक ने विकेट के पीछे किया कमाल, गिलक्रिस्ट और सरफराज के वर्ल्ड कप रिकॉर्ड की बराबरी की

अफगानिस्तान के खिलाफ विकेट के पीछे क्विंटन डी कॉक ने 6 कैच लपके
अफगानिस्तान के खिलाफ विकेट के पीछे क्विंटन डी कॉक ने 6 कैच लपके

वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup 2023) के 42वें मुकाबले में आज अफगानिस्तान और दक्षिण अफ्रीका (Afghanistan vs South Africa) के बीच रोमांचक मुकाबला खेला जा रहा है। दोनों टीमों के बीच यह मैच अहमदाबाद में नरेंद्र मोदी स्टेडियम में आयोजित हो रहा है। इस मैच में अफगानिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 244 रन बनाए हैं। वहीं दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक (Quinton De Kock) के लिए यह मुकाबला काफी खास रहा है। डी कॉक ने विकेट के पीछे इस मुकाबले में 6 अफगानी बल्लेबाजों का शिकार किया। इन 6 शिकार के साथ उन्होंने अपने नाम खास रिकॉर्ड बना लिया है।

दरअसल, वर्ल्ड कप के एक मैच में सबसे ज्यादा शिकार करने वाले विकेटकीपर की लिस्ट में क्विंटन डी कॉक ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट और पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज अहमद के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर काबिज हो गए हैं। इन तीनों विकेटकीपर बल्लेबाज ने वर्ल्ड कप के एक मैच में सर्वाधिक 6 शिकार विकेटकीपिंग में किया है।

यह कारनामा सबसे पहले एडम गिलक्रिस्ट ने 2003 वर्ल्ड कप में किया था। उन्होंने नामिबिया के खिलाफ 6 शिकार विकेट के पीछे किया थे। वहीं इसके बाद 2015 वर्ल्ड कप में सरफराज अहमद ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में 6 शिकार किए थे। इन दोनों के बाद आज क्विटंन डी कॉक ने अफगानिस्तान के खिलाफ 6 बल्लेबाजों को आउट करने में अपना भी योगदान दिया है।

इस खास कीर्तिमान के अलावा डी कॉक ने विकेटकीपिंग में एक और बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया है। दरअसल, मौजूदा वर्ल्ड कप में डी कॉक ने विकेट के पीछे अब तक 19 बल्लेबाजों का शिकार किया है। ऐसे में वह एक वर्ल्ड में सबसे ज्यादा विकेट के पीछे शिकार करने के मामले में चौथे स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने श्रीलंका के दिग्गज कुमार संगाकारा को रिकॉर्ड तोड़ दिया है। संगाकारा ने 2003 वर्ल्ड कप में 17 शिकार विकेटकीपिंग में किया था। वहीं इस लिस्ट में पहले नंबर पर एडम गिलक्रिस्ट और टॉम लैथम का नाम है। गिलक्रिस्ट ने 2003 वर्ल्ड कप में तो टॉम लैथम ने 2019 वर्ल्ड कप में विकेट के पीछे 21 शिकार किए थे।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment