'हार्दिक पांड्या की जगह इस खिलाड़ी को बनाये ऑलराउंडर', पूर्व चयनकर्ता ने दिया बड़ा बयान

हार्दिक पांड्या
हार्दिक पांड्या

पूर्व राष्‍ट्रीय चयनकर्ता सरनदीप सिंह का मानना है कि अब समय आ गया है जब भारतीय टीम हार्दिक पांड्या पर अधिक निर्भरता छोड़े और शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, विजय शंकर व शिवम दुबे जैसे युवाओं को संवारे।

भारतीय टीम को हाल ही में विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में न्‍यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट की शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी। भारतीय टीम को गेंदबाजी संयोजन के कारण नुकसान झेलना पड़ा था जबकि न्‍यूजीलैंड के पास चार शानदार तेज गेंदबाज थे। भारतीय टीम के स्पिनर्स मैच में अपना जलवा नहीं बिखेर पाए थे।

मैच के बाद कप्‍तान विराट कोहली ने कहा था कि टीम को तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर की जरूरत है, ताकि विभिन्‍न आक्रमण को आजमाया जा सके। ऐसा संभव इसलिए नहीं है क्‍योंकि हार्दिक पांड्या को कुछ साल पहले कमर में चोट लगी थी, जिसके बाद उन्‍होंने गेंदबाजी करना बहुत कम कर दिया है।

सरनदीप सिंह ने पीटीआई से बातचीत करते हुए कहा, 'आप सिर्फ हार्दिक पांड्या पर निर्भर नहीं रह सकते हैं। आपको नहीं पता कि वह सभी प्रारूपों में गेंदबाजी करने के लिए कब फिट होगा, तो ऐसे में शार्दुल ठाकुर जैसे ऑलराउंडर को बढ़ाना चाहिए। विजय शंकर और शिवम दुबे भी हैं।'

सरनदीप सिंह ने हैरानी जताई कि साउथैम्‍प्‍टन में पहले दिन बारिश होने के बाद भी भारतीय टीम ने प्‍लेइंग XI में बदलाव नहीं किया जबकि परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के लिए मददगार हो गई थीं। उन्‍होंने साथ ही कहा कि तेज गेंदबाज में बल्‍लेबाजी के गुण होने के कारण शार्दुल ठाकुर को 15 सदस्‍यीय टीम का हिस्‍सा होना चाहिए था।

सरनदीप सिंह ने कहा, 'मैच के दो दिन पहले दो स्पिनर्स सहित जिस प्‍लेइंग XI की घोषणा की गई थी, वो सही थी। मगर जब बारिश के बाद स्थितियां तेज गेंदबाजों के लिए मददगार हो गई थी तो भारतीय टीम भी बदलाव कर सकती थी। आपने दो स्पिनर्स इसलिए चुने क्‍योंकि दोनों बल्‍लेबाजी करते हैं।'

सरनदीप सिंह ने आगे कहा, 'एकमात्र तेज गेंदबाज, जो बल्‍लेबाजी भी कर सकता है, वो शार्दुल ठाकुर है और उसे 15 सदस्‍यीय टीम में शामिल नहीं किया। उसे 15 सदस्‍यीय टीम में तो रखना चाहिए था, भले ही आप प्‍लेइंग इलेवन में उसे नहीं मौका देते।'

कोहली-रोहित से दबाव हटाने वाले खिलाड़ी चाहिए: सरनदीप सिंह

विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल से एक और विषय निकला और वो है चेतेश्‍वर पुजारा व अजिंक्‍य रहाणे का फ्लॉप होना। सरनदीप सिंह ने इस बात से इंकार किया कि टीम में पूरे बदलाव की जरूरत है, लेकिन साथ ही कहा कि बल्‍लेबाजों को अपनी सोच बदलरकर खेलना चाहिए ताकि रोहित शर्मा और विराट कोहली का सहयोग कर सकें।

सरनदीप सिंह ने कहा, 'एक बात साफ हो गई है कि अगर गेंद हरकत कर रही है तो आप ज्‍यादा डिफेंसिव नहीं खेल सकते हैं। चाहे पुजारा हो या रहाणे या फिर कोई भी। आपको अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर खेलना होगा ताकि परिस्थिति का विरोध कर पाएं।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'यह कहना जल्‍दबाजी होगी कि टीम में बड़ा परिवर्तन हो, लेकिन बल्‍लेबाजों के लिए मानसिकता में बदलाव लाना जरूरी है। ऑस्‍ट्रेलिया में भी निचलेक्रम के बल्‍लेबाजों ने महत्‍वपूर्ण योगदान दिया था। हमें ऐसे खिलाड़‍ियों की जरूरत है, जो कोहली और रोहित पर से दबाव हटा सकें।' भारतीय टीम अब 4 अगस्‍त से इंग्‍लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज में हिस्‍सा लेगी।

Quick Links

Edited by Vivek Goel