Create
Notifications

"भारतीय कप्‍तान के रूप में विराट कोहली की बहुत कमी खलेगी", ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर का बड़ा बयान

ब्रैड हॉग ने भारत के पूर्व कप्‍तान विराट कोहली की जमकर तारीफ की है
ब्रैड हॉग ने भारत के पूर्व कप्‍तान विराट कोहली की जमकर तारीफ की है
Vivek Goel
visit

ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket team) के पूर्व स्पिनर ब्रैड हॉग (Brad Hogg) ने विराट कोहली (Virat Kohli) की लीडरशिप शैली की जमकर तारीफ की है। कोहली ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa Cricket team) के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज हारने के बाद टेस्‍ट कप्‍तानी से इस्‍तीफा दिया था।

अपने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए हॉग ने कहा कि कोहली अपना व्‍यस्‍त कार्यक्रम होने के बावजूद लोगों के लिए हमेशा समय निकाल लेते हैं।

हॉग ने कहा, 'हर बार जब भी मैं कोहली के पास से गुजरा तो वो रुके। हमारे बीच क्रिकेट से संबंधित कुछ बातचीत हुई और फिर वो चले जाते थे। वो मैदान के अंदर और बाहर काफी व्‍यस्‍त होने के बावजूद सभी के लिए समय निकाल लेते हैं। उन्‍हें ट्रेनिंग करनी होती है, विज्ञापन करने होते हैं और खुद को मानसिक रूप से संतुलित रखना होता है व अपने परिवार का ध्‍यान रखना होता है। इन सबके बावजूद वो समय निकालना जानते हैं।'

ऑस्‍ट्रेलियाई स्पिनर ने कोहली को खेल का सच्‍चा दूत करार दिया। हॉग ने कहा, 'विराट कोहली खेल के सच्‍चे दूत हैं और मेरे लिए आगे चलकर भारतीय टीम को कप्‍तान के रूप में उनकी कमी खलेगी। शाबाश विराट कोहली। आपने भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया। अगले कप्‍तान को बड़ी जगह भरनी होगी।'

विराट कोहली ने जो सोचा वो किया: हॉग

विराट कोहली का बतौर कप्‍तान मिशन था कि भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाएं। हॉग के मुताबिक, 'विराट कोहली की बहुत कमी खलेगी। मगर एक चीज जो मुझे पसंद है वो ये कि जब कोहली ने कप्‍तानी संभाली थी तो उनके दिमाग में एक चीज थी कि भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर लेकर जाना है और उन्‍होंने ऐसा करके दिखाया। उन्‍होंने अनुशासन, जुनून, शारीरिक और प्रदर्शन के आधार पर मापदंड स्‍थापित किए। उसने मैदान के अंदर और बाहर खुद को बहुत अच्‍छी तरह संभाला और हमेशा टीम को पहले रखा। उन्‍होंने अपने प्रदर्शन से पहले भारतीय क्रिकेट को रखा।'

हॉग ने आगे कहा, 'जो जुनून विराट में था, उसने वाकई बाउंड्री का परीक्षण किया। हर बार उसने सीमा रेखा को पार करने की कोशिश की। वह जरूरत पड़ने पर गलत तरह से विरोधी टीम को दबाव में ला सकता था। वो हर हाल में टीम को टक्‍कर देना चाहता था। वो अपना पूरा समर्पण देता था और ये सच्‍ची लीडरशिप थी। कोहली ने स्‍तर स्‍थापित किया है।'


Edited by Prashant Kumar
comments icon1 comment
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now