Create
Notifications

"विराट कोहली अपने आपको IPL में एक हारा हुआ कप्तान देखेंगे"

विराट कोहली ने बैंगलोर के लिए 9 साल तक कप्तानी की (Photo - BCCI / IPL)
विराट कोहली ने बैंगलोर के लिए 9 साल तक कप्तानी की (Photo - BCCI / IPL)
Rahul

कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के लिए विराट कोहली (Virat Kohli) ने आखिरी बार कप्तानी की जिम्मेदारी निभाई, जिसमें टीम को 4 विकेट से हार मिली और इस साल एक बार फिर आईपीएल (IPL 2021) ट्रॉफी जीतने का सपना टूट गया। उनकी कप्तानी को लेकर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने महसूस किया है कि विराट कोहली की कप्तानी बैंगलोर के लिए एक भी ट्रॉफी न जीत पाने पर याद रखी जायेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि टेस्ट फॉर्मेट में उनकी कप्तानी का जवाब नहीं, लेकिन आईपीएल में वह अच्छे कप्तान नहीं बन सके।

माइकल वॉन ने क्रिकबज से बातचीत करते हुए कहा कि, 'विराट टेस्ट टीम और टेस्ट मैच क्रिकेट के लिए एक बेहतरीन कार्य कर रहे हैं और साथ ही भारतीय टीम का विकास भी कर रहे हैं, जो बेहद ही शानदार है। आपको सच कहना होगा कि उन्होंने राष्ट्रीय टीम में वनडे और टी20 क्रिकेट और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए एक लंबा रास्ता तय कर लिया है। उन्हें जिस तरह के बेहतरीन खिलाड़ी चाहिए थे, वो टीम में थे। पिछले कुछ वर्षों में RCB की बल्लेबाजी काफी तगड़ी रही है। इस साल मैक्सवेल, हर्षल पटेल और चहल की गुणवत्ता के साथ, उनके पास बल्लेबाजी जैसी गेंदबाजी भी थी और फिर भी वे हार गए।'

माइकल वॉन ने इस संदर्भ में आगे कहा कि, 'आईपीएल में कप्तान के रूप में कोहली की विरासत वह होगी जो जीत नहीं पाई। उच्च स्तरीय खेल ऊपर उठने और ट्राफियां जीतने के बारे में है, खासकर जब आप विराट कोहली के स्तर पर हैं। मैं निश्चित रूप से यह नहीं कह रहा हूं कि कोहली भी इसका हिस्सा है, लेकिन वह अपने आपको IPL में एक हारा हुआ कप्तान देखेंगे। क्योंकि वह एक ऐसा प्रेरित खिलाड़ी और व्यक्ति है, जिसके हाथ में वह ट्रॉफी नहीं है। विराट कोहली ने बैंगलोर के लिए 140 मैचों में कप्तानी की है जिसमें टीम को 66 में जीत मिली है उनकी कप्तानी में टीम एक बार 2016 में फाइनल पहुंची थी और 2017 और 2019 में आखिरी स्थान पर भी रही।


Edited by Rahul

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...