Create

भारत का अगला कपिल देव बनने के ख्‍वाब देखता था ये क्रिकेटर, आगे चलकर तोड़ दिया उनका ही रिकॉर्ड

महान कपिल देव जैसा बनना चाहता था भारतीय क्रिकेटर, अब तोड़ डाला उन्‍हीं का रिकॉर्ड
महान कपिल देव जैसा बनना चाहता था भारतीय क्रिकेटर, अब तोड़ डाला उन्‍हीं का रिकॉर्ड
reaction-emoji
Vivek Goel

भारतीय टीम (India Cricket team) के स्‍टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने हाल ही में श्रीलंका (Sri Lanka Cricket team) के खिलाफ संपन्‍न पहले टेस्‍ट (IND vs SL) में सुर्खियां बटोरी जब वह क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में भारत के दूसरे सबसे ज्‍यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बने।

35 साल के स्पिनर ने रविवार को श्रीलंका की दूसरी पारी में चरित असलंका को आउट करके कपिल देव के 434 टेस्‍ट विकेट के रिकॉर्ड को तोड़ा। अश्विन ने यह विशेष उपलब्धि हासिल करने के बाद बताया कि वह अपने युवा दिनों में बेहतर बल्‍लेबाज और मध्‍यम तेज गति के गेंदबाज बनकर एक और कपिल देव बनना चाहते थे।

कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ने के बाद अपने यूट्यूब चैनल पर अश्विन ने कहा, 'बहुत अच्‍छा महसूस हो रहा है। 28 साल पहले, मैं अपने पिता के साथ कपिल पाजी के लिए चीयर कर रहा था जब उन्‍होंने रिचर्ड हेडली का रिकॉर्ड तोड़ा। मैंने तो कभी अपने सपने में भी नहीं सोचा था कि उनके विकेटों की संख्‍या को पीछे छोड़ पाऊंगा क्‍योंकि जब 8 साल की उम्र में मैंने क्रिकेट खेलना शुरू किया था तो हमेशा एक बल्‍लेबाज बनना चाहता था।'

अश्विन ने आगे कहा, '1994 में बल्‍लेबाजी मेरा जुनून था। सचिन तेंदुलकर उभर रहे थे और कपिल देव गेंद पर बेहतरीन प्रहार करने वालों में से एक थे।' तमिलनाडु के क्रिकेटर ने साथ ही कहा कि अपने पिता की सलाह सुनकर उन दिनों वो मध्‍यम तेज गति की गेंदबाजी करते थे ताकि अगले कपिल देव बन सके।

85 टेस्‍ट में 436 विकेट लेने वाले अश्विन ने कहा, 'मैंने अपने पिता की सलाह सुनकर मध्‍यम तेज गेंदबाजी करना शुरू कर दी थी ताकि मैं अगला कपिल पाजी बन सकूं। वहां से ऑफ स्पिनर बनना और इतने साल भारत का प्रतिनिधित्‍व करना, मैंने कभी नहीं सोचा था कि भारत के लिए खेल पाऊंगा।'

कपिल देव ने 131 टेस्‍ट में 434 विकेट लिए थे। उन्होंने रिचर्ड हेडली के 431 विकेट के रिकॉर्ड को अहमदाबाद में श्रीलंका के खिलाफ ही तोड़ा था।

स्‍टेन का रिकॉर्ड तोड़ने पर अश्विन की नजर

रविचंद्रन अश्विन टेस्‍ट क्रिकेट में 400 या ज्‍यादा विकेट लेने वाले भारत के चौथे गेंदबाज बने। इससे पहले अनिल कुंबले (619), कपिल देव (434) और हरभजन सिंह (417) यह कमाल कर चुके हैं।

रविचंद्रन अश्विन की नजरें अब दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्‍टेन (439) के रिकॉर्ड को तोड़ने पर टिकी हैं। भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में जब मैदान संभालेगी तो सभी की नजरें रविचंद्रन अश्विन पर होंगी।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...