Create

'न्‍यूजीलैंड ने उजागर की भारतीय बल्‍लेबाजों की कमजोरी, 'को‍हली ब्रिगेड' को जल्‍द ठीक करनी होगी'

भारतीय टीम
भारतीय टीम

वीवीएस लक्ष्‍मण का मानना है कि भारतीय टीम विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में रिजर्व डे के दिन न्‍यूजीलैंड के खिलाफ जिस तरह आउट हुई, उससे बहुत निराश होगी। पूर्व भारतीय बल्‍लेबाज ने ध्‍यान दिलाया कि कैसे टीम इंडिया ने पहली पारी में विपरीत परिस्थितियों में बेहतर बल्‍लेबाजी करते हुए 217 रन का स्‍कोर बनाया था।

हालांकि, जिस दिन को बल्‍लेबाजी के लिए सबसे बेहतर माना जा रहा था, उस दिन भारतीय टीम दूसरी पारी में केवल 170 रन पर ऑलआउट हो गई। लक्ष्‍मण ने कहा कि न्‍यूजीलैंड ने भारतीय बल्‍लेबाजों की तकनीकी खामियों को उजागर किया, जिसे इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज से पहले विराट कोहली की टीम को सुधारना होगा।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया में लिखे अपने कॉलम में लक्ष्‍मण ने समझाया, 'भारतीय टीम विशेषकर दूसरी पारी में अपने साधारण बल्‍लेबाजी के स्‍तर से दुखी होगी। उन्‍होंने पहली पारी में विपरीत परिस्थितियों में अच्‍छा खेल दिखाया था, लेकिन छठे दिन बल्‍लेबाजी के लिए सर्वश्रेष्‍ठ स्थिति पाई गई, तब वो ड्रॉ कराने में नाकाम रही, जिससे उन्‍हें दुख हुआ होगा।'

लक्ष्‍मण ने आगे लिखा, 'वो टीम, जो विपरीत परिस्थितियों में बेहतर प्रदर्शन करने के कारण खुद पर गर्व करती है, जिस अंदाज में उसे शिकस्‍त झेलनी पड़ी, उस नतीजे से उन्‍हें धक्‍का लगा होगा। न्‍यूजीलैंड ने टॉप ऑर्डर की कुछ तकनीकी खामियों को उजागर किया, जिसका इंग्‍लैंड भी ध्‍यान रखेंगे।'

भारतीय टीम को डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में न्‍यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट की शिकस्‍त झेलनी पड़ी। न्‍यूजीलैंड ने अब तक दो आईसीसी खिताब जीते और दोनों बार फाइनल में उसने भारतीय टीम को मात दी। इससे पहले 2000 में चैंपियंस ट्रॉफी में न्‍यूजीलैंड ने भारत को हराकर खिताब जीता था।

भारतीय टीम कड़े फैसले पर विचार कर सकती है: वीवीएस लक्ष्‍मण

डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में शिकस्‍त झेलने के बाद भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने कहा था कि कुछ खिलाड़ी टीम से अपनी जगह गंवा सकते हैं। कोहली ने कहा था कि भारतीय टीम दोबारा योजना तैयार करेगी और उन खिलाड़‍ियों को मौका देगी जो प्रदर्शन करने के लिए सही मानसिकता के साथ उतरें।

लक्ष्‍मण भी इस बात पर सहमत नजर आए और उनका मानना है कि भारतीय टीम प्रबंधन को निकट भविष्‍य में कुछ कड़े फैसले लेने पड़ सकते हैं।

उन्‍होंने लिखा, 'भारतीय टीम को अभी और पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज से पहले कई मामलों का हल खोजना है। उन्‍हें कुछ कड़े फैसले पर विचार करना पड़ सकता है। विराट कोहली संकेत दे ही चुके हैं। मगर टीम को जानते हुए मुझे भरोसा है कि साउथैम्‍प्‍टन टेस्‍ट का उपयोग करके वह अच्‍छी चीजें तैयार करेंगे।' भारत और इंग्‍लैंड के बीच 4 अगस्‍त से पहला टेस्‍ट ट्रेंटब्रिज में खेला जाएगा।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment