Create
Notifications

आंद्रे रसेल ने KKR के लिए अपना सबसे बुरा समय याद किया, कहा- 'लोगों को लगा कि मैं ड्रग्‍स लेता हूं'

आंद्रे रसेल
आंद्रे रसेल
Vivek Goel

कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) के ऑलराउंडर आंद्रे रसेल ने अपने करियर के सबसे बुरे समय में से एक को याद किया। जनवरी 2017 में किंग्‍सटन में डोपिंग रोधी पैनल द्वारा व्‍हेयरअबाउट्स के उल्‍लंघन के लिए रसेल पर 12 महीने का प्रतिबंध लगाया था। आंद्रे रसेल ने ट्रिब्‍यूनल से बातचीत में कहा कि उन्‍होंने इसकी अनदेखी नहीं की थी और भविष्‍य में इस पर ध्‍यान देने को कहा था, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

केकेआर ने एक वीडियो अपलोड किया, जिसमें आंद्रे रसेल ने अपनी भावनाएं व्‍य‍क्‍त की हैं कि करियर के चरम पर उन्‍हें जब यह तगड़ा झटका लगा तो कैसा महसूस हुआ। जमैकाई खिलाड़ी ने साथ ही याद किया कि कैसे लोगों ने उन पर ड्रग्‍स उपयोग करने को लेकर संदेह किया क्‍योंकि उस समय वह गेंद और बल्‍ले दोनों से शानदार प्रदर्शन कर रहे थे।

आंद्रे रसेल ने कहा, '2017 मेरे करियर के सबसे बुरे सालों में से एक था। अपने खेल के शीर्ष पर होने के बाद प्रतिबंध लग गया जबकि मैं गेंद पर बहुत अच्‍छे से संपर्क बैठा पा रहा था। लोग एक प्‍वाइंट साबित करना चाह रहे थे क्‍योंकि मैं किसी से कुछ छिपा नहीं रहा था। मैं जहां भी खेल रहा था, वहां परीक्षण करा रहा था। मैं 100 मीटर के ऊपर से गेंदें बाउंड्री लाइन के पार भेज रहा था और छोटा रन-अप लेने के बावजूद गेंद 140 किमी प्रति घंटे की ज्‍यादा रफ्तार से डाल रहा था तो लोगों ने सवाल करना शुरू कर दिया कि मैं ड्रग्‍स ले रहा हूं या और कोई चीज, जिससे शरीर में काफी शक्ति आ रही है। मुझे ड्रग टेस्‍ट के बारे में सबकुछ पता चल रहा था। मुझे पता था कि लेबल को कैसे रिलीज करना है या हटाना है। किसी को मुझे कुछ दिखाने की जरूरत नहीं थी। ऐसा लगा कि सब जूते में डाल रहे हैं।'

अब फ्रेंचाइजी के प्रमुख सदस्‍य आंद्रे रसेल ने 2017 में केकेआर में अपने पैर जमाए थे। उन्‍होंने 2016 आईपीएल में 8 पारियों में 164.91 के स्‍ट्राइक रेट से 188 रन बनाए थे और 15 विकेट चटकाए थे। आंद्रे रसेल की छवि पर गहरा दाग लगने के बावजूज केकेआर ने उनके प्रदर्शन पर भरोसा किया और रिटेन किया।

दुष्‍ट दुनिया में हम रहते हैं: आंद्रे रसेल

आंद्रे रसेल ने इस दौरान कोर्ट के अपने कुछ अनुभवों को भी साझा किया। उन्‍होंने प्रतिवाद का आरोप लगाया दावा किया कि एक महिला ने कोर्ट में उनके बारे में झूठ कहा और रसेल को गुस्‍से में ला खड़ा किया। रसेल ने कहा, 'उसने मुझे गहरी चोट पहुंचाई। वो पागलपन था। वो वापस गए और दो साल तक मामले की अपील की और तब सरकार व अन्‍य लोग शामिल हुए। लोगों ने कहा कि वह मुझसे मिल चुके हैं और बातचीत कर चुके हैं जबकि वो पहला मौका था जब मैंने उन लोगों को देखा था। यह दुष्‍ट दुनिया है, जहां हम रहते हैं। क्‍योंकि कोई हाथ में बाइबल ले और कहा मैं कसम खाती हूं, मैंने कहा ठीक है, ऐसे में कोई पुरुष और महिला झूठ नहीं कहेगी क्‍योंकि मैं बाइबल की इज्‍जत करता हूं।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'वह मेरी आंखों में मर चुकी थी और उसने कहा कि वह मेरे बैठी व जाडको (जमैका डोपिंग विरोधी कमीशन) के नियम व दिशा-निर्देश के बारे में विचार-विमर्श किया। मैं तब कोर्ट में भड़क उठा। मैंने पूछा मैं? मैंने आपको अपनी जिंदगी में कभी नहीं देखा। और मैं झूठ नहीं बोल रहा था। मैंने कभी उस महिला को नहीं देखा था।' ऐसी रिपोर्ट आई थी कि आंद्रे रसेल को तगड़ा झटका लगा जब उनके प्रतिबंध की पुष्टि हुई। वीडियो में आगे रसेल ने याद किया कि जैसे गली के साथी उन्‍हें देखते थे और वह क्रिकेट देखना बंद कर चुके थे।

रसेल ने कहा, 'मैं अपने शहर से दूर चले जाना चाहता था क्‍योंकि जब मैं वहां से निकलता था तो लोग ऐसे देखते थे कि मैंने ड्रग्‍स ले रखा है। चूकि कई लोगों को बात नहीं पता थी तो मुझे दर्द महसूस नहीं हुआ, लेकिन मैं क्रिकेट नहीं खेल पा रहा था। मैं बस स्‍कोर पूछता था। मैंने केकेआर के कुछ मैच देखने की कोशिश की, लेकिन बहुत कठिन हो रहा था।'

हालांकि, यह सभी चीजें आगामी महीनों में बदली। आंद्रे रसेल ने रिपोर्ट के मुताबिक उसेन बोल्‍ट के स्‍पोर्ट्स थेरेपिस्‍ट एवरल एडवर्ड्स से बातचीत की और अपनी ताकत पर काम किया। पहले से बेहतर आकार में वह मैदान पर लौटे और केकेआर के लिए शानदार वापसी की। 2018 में रसेल ने 318 रन बनाए और 2018 में करियर का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन किया। उन्‍होंने 56.67 की औसत और 204.82 के स्‍ट्राइक रेट से 510 रन बनाए और विश्‍व के सबसे घातक टी20 ऑलराउंडर्स में अपनी ख्‍याति बनाई। बाकी जैसा वो कहते हैं कि इतिहास है।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...