Create
Notifications

'बीसीसीआई को तुरंत IPL 2021 रोक देना चाहिए, खिलाड़ी अब सुरक्षित नहीं'

आईपीएल
आईपीएल
Vivek Goel

भारत में लगातार कोविड-19 मामले बढ़ने की खबरें जोर पकड़ रही हैं और अब इससे आईपीएल 2021 (IPL 2021) भी अछूता नहीं रहा है। कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) के दो खिलाड़ी कोविड-19 पॉजिटिव निकले, जिसके बाद सोमवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के खिलाफ मुकाबला स्‍थगित कर दिया गया।

अब कई रिपोर्ट्स में सामने आ रहा है कि चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के स्‍टाफ के दो और डीडीसीए के ग्राउंड स्‍टाफ के पांच लोग भी कोरोना वायरस की चपेट में आए हैं। पूर्व भारतीय खिलाड़ी कीर्ति आजाद ने बीसीसीआई के इरादों पर सवाल खड़े किए और खिलाड़‍ियों की सुरक्षा का ख्‍याल रखने के इरादे से तुरंत लीग स्‍थगित करने की मांग की।

कीर्ति आजाद ने इंसाइडस्‍पोर्ट को दिए इंटरव्‍यू में कहा, 'मेरे ख्‍याल से खिलाड़ी बबल में रहकर सभी चीजों से सुरक्षित थे और क्रिकेट प्रेमी व देशवासियों का मनोरंजन कर रहे हो। यह दुर्भाग्‍य की बात है कि बबल में रहने के बावजूद कोरोना वायरस पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। सीधी सी बात है कि सुरक्षा में कमी है। तो यह बहुत भयावह स्थिति है कि किस तरह चीजें चल रही हैं। अगर इस तरह मामले सामने आएंगे तो इसे रोकना चाहिए।'

केकेआर के दो खिलाड़ी वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर वायरस की चपेट में आए। वरुण बबल छोड़कर कंधे का उपचार कराने गए थे, जहां से उनके वायरस के संपर्क में आने की बात बताई जा रही है। वैसे, यह सार्वजनिक नहीं किया गया है कि कैसे सीएसके के सीईओ काशी विश्‍वनाथन, गेंदबाजी कोच लक्ष्‍मीपति बालाजी और बस क्‍लीनर कैसे वायरस के संपर्क में आए। ऐसा माना जा रहा है कि यह खिलाड़ी उन पांच डीडीसीए ग्राउंड्समैन के संपर्क में आए, जो कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजिटिव पाए गए हैं।

बायो-बबल भी सुरक्षित नहीं बचे: कीर्ति आजाद

अब जब खिलाड़ी और स्‍टाफ अन्‍य फ्रेंचाइजी सदस्‍यों और खिलाड़‍ियों के संपर्क में आएं होंगे तो पता करना मुश्किल है कि वायरस किस हद तक फैला होगा क्‍योंकि मामले का पता 6-7 दिन के बाद पता चलता है। कीर्ति आजाद ने कहा कि खिलाड़ी अब सुरक्षित नहीं बचे हैं और बीसीसीआई या आईपीएल द्वारा बनाए गए बायो-बबल।

कीर्ति आजाद ने कहा, 'छह दिन को आप कोरोना इंफेक्‍शन का पता नहीं कर सकते। सातवें दिन आपको इसके बारे में पता चलेगा। तो निश्चित है कि केकेआर के खिलाड़‍ियों और सीएसके के स्‍टाफ के साथ हुआ, उसमें सुरक्षा की कमी है, जिसे हम सुरक्षित जोन मानकर चल रहे थे।'

कीर्ति आजाद ने आगे कहा, 'पहली बात सुरक्षा में कमी। दूसरी बात कोरोना का दृश्‍य बहुत खतरनाक स्थिति में है। तीसरी बात यह वायरस जानलेवा भी है। आईपीएल को पूर्णत: रोकना चाहिए ताकि किसी को कोई हताहत नहीं हो। उन्‍हें तुरंत इसे रोक देना चाहिए। पहले अगर कोई मुझसे पूछा कि आईपीएल होना चाहिए तो मैं कहता हां क्‍योंकि सभी बबल में हैं और सुरक्षित हैं। लोग घर में बोर हो रहे हैं तो इससे थोड़ा मनोरंजन हो जाता है। मगर अब जब खिलाड़ी इससे संक्रमित हुए तो इसे रोकना चाहिए।'


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...