Create

"उम्‍मीद है कि मुंबई इंडियंस हमें कोलकाता भेजेगी", ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने दिया बड़ा बयान

ग्‍लेन मैक्‍सवेल को उम्‍मीद है कि मुंबई इंडियंस आरसीबी को प्‍लेऑफ में पहुंचाने में मदद करेगी
ग्‍लेन मैक्‍सवेल को उम्‍मीद है कि मुंबई इंडियंस आरसीबी को प्‍लेऑफ में पहुंचाने में मदद करेगी

ग्‍लेन मैक्‍सवेल (Glenn Maxwell) (18 गेंदें, 5 चौके, दो छक्‍के, नाबाद 40 रन) की धुआंधार पारी के दम पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने गुजरात टाइटंस (Gujarat Titans) को अहम मुकाबले में 8 विकेट से हराया और प्‍लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्‍मीदों को जिंदा रखा।

हालांकि, आरसीबी का भाग्‍य मुंबई इंडियंस तय करेगा। अगर मुंबई इंडियंस ने शनिवार को दिल्‍ली कैपिटल्‍स को हराया तो आरसीबी टॉप-4 में क्‍वालीफाई कर लेगी। आरसीबी के ऑलराउंडर ग्‍लेन मैक्‍सवेल भी चाहते हैं कि मुंबई इंडियंस दिल्‍ली कैपिटल्‍स को हरा दे और आरसीबी को प्‍लेऑफ के लिए क्‍वालीफाई करने में मदद मिले।

मैक्‍सवेल ने कहा, 'हम मुंबई-दिल्‍ली मैच पर नजर रखेंगे। मुझे गोल्‍फ खेलने में कोई परेशानी नहीं होगी। इसके चलते थोड़ा रिहैब हो जाएगा। मगर मेरे ख्‍याल से लड़के काफी फोकस्‍ड हैं। इस साल इस टीम ने जितनी कड़ी मेहनत और प्रयास किया है, तो लगता है कि टीम अंतिम-4 में पहुंचने की हकदार है। उम्‍मीद है कि मुंबई इंडियंस हमें अंतिम-4 में पहुंचाए।'

मैक्‍सवेल ने अपनी पारी के बारे में बात करते हुए कहा, 'मैं कभी भी गेंदें खाली नहीं छोड़ना चाहता था। उन शुरूआती गेंदों में मैंने लंबे शॉट्स खेलकर कोहली पर से दबाव हटाने का प्रयास किया। हमने लय बरकरार रखने की कोशिश की। अगर मैं पहली गेंद पर आउट हो जाता तो ज्‍यादा फर्क नहीं पड़ता, लेकिन अगर मैं कुछ खाली गेंदें खेलता तो गुजरात को लय मिल सकती थी।'

मैक्‍सवेल ने आगे कहा, 'ज्‍यादा सकारात्‍मक रहने की कोशिश क्‍योंकि हमें एहसास था कि बल्‍लेबाजी में हम पूरी तरह हावी रहे।' इसके अलावा मैक्‍सवेल ने राशिद खान की गेंद पर मिले जीवनदान के बारे में भी बात की।

मैक्‍सवेल ने कहा, 'मैंने आवाज नहीं सुनी कि स्‍टंप पर गेंद लगी। मगर जब मेरे से गेंद छूटी तो लगा कि स्‍टंप के काफी पास गेंद गई। सबसे बुरी चीज रही कि रांग-वन गेंद को भांप लिया और फिर शॉट खेलने से चूक गया। आपका ऐसा समय भी होता है जब आपको भाग्‍य की जरूरत होती है। इस टूर्नामेंट के दौरान कई उतार-चढ़ाव देखे। कुछ चीजों का आप कुछ नहीं कर सकते, लेकिन मेरे लिए इस बार गिल्‍लियां नहीं गिरी थी।'

ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने शुभमन गिल का शानदार कैच पकड़ने के बारे में बताया, 'मेरे दिमाग में था कि मैंने थोड़ा धीमे मूव किया और गेंद के पास नहीं पहुंच पाऊंगा। गेंद उँगलियों में आकर फंस गई। मैंने अपनी पूरी जिंदगी में इसका अभ्‍यास किया है और यह ऐसा नहीं कि पहली बार हुआ हो। यह उन चीजों में से एक है, जिस पर मैंने कड़ी मेहनत की है। तब हमारी शुरूआत शानदार रही और हमने पावरप्‍ले में नियंत्रण दिखाया।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment