Create
Notifications

"घर में झूठ बोलता था कि खाना खा लिया", इशान किशन ने अपने करियर के शुरूआती दिनों के संघर्ष का खुलासा किया

इशान किशन ने बताया कि खाना बनाते नहीं आता था, इसलिए चिप्‍स जैसी चीजें खाकर पेट भरते थे
इशान किशन ने बताया कि खाना बनाते नहीं आता था, इसलिए चिप्‍स जैसी चीजें खाकर पेट भरते थे
reaction-emoji
·
Vivek Goel

मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के स्‍टार विकेटकीपर बल्‍लेबाज इशान किशन (Ishan Kishan) पिछले 12 महीने से सनसनीखेज दौर से गुजर रहे हैं। भारत (India Cricket team) के लिए वनडे और टी20 इंटरनेशनल मैचों में डेब्‍यू करने से लेकर आईपीएल (IPL) का सबसे महंगा खिलाड़ी बनना, 23 साल के इशान किशन ने कई ऊंचाइयां देखी।

हालांकि, युवा बल्‍लेबाज ने उस समय को याद किया जब रांची में ट्रेनिंग के दौरान उनके पास खाने की कमी थी। कई क्रिकेटर्स अपने शुरूआती दिनों में कड़े दौर से गुजरे और इशान किशन जरा भी अलग नहीं।

ब्रेकफास्‍ट विथ चैंपियंस में बातचीत करते हुए इशान किशन ने बताया कि वो कैसे अन्‍य लोगों पर खाने के लिए निर्भर रहते थे क्‍योंकि उन्‍हें खाना बनाते नहीं आता था।

इशान किशन ने कहा, 'उन दिनों ये बड़ी समस्‍या थी। लिविंग क्‍वार्टर्स में तीन खिलाड़ी थे और उसमें दो कमरे थे। चीज ये थी कि मुझे नहीं पता कि खाना कैसे बनाया जाता है। एक लड़के को खाना बनाना आता था। मेरी दिक्‍कत थी कि मैं आलसी था। मैं खेलकर आता था और बस बिस्‍तर पर लेटे रहता था।'

किशन ने साथ ही बताया कि कैसे वो किराना स्‍टोर से चिप्‍स, कोल्ड्रिंक्‍स और बिस्किट खरीदकर अपने डिनर की पूर्ति करते थे। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने कहा, 'मैं सेल कंपनी से जुड़ा और वहां एक छोटी किराने की दुकान थी। मैं आइसक्रीम, चिप्‍स, बिस्किट और कोल्ड्रिंक्‍स रात के लिए खरीदकर ले जाता था। मैं अपने परिवार से झूठ बोलता था कि खाना खा लिया। मुझे सीनियर ने नीचे बुलाकर खाना खिलाया था। हालांकि, बाद में मैंने उन्‍हें बताया कि जब मैं वहां था तो कुछ खाता ही नहीं था।'

youtube-cover

लोग नहीं जानते कि खिलाड़ी किस जोन से आया है: इशान किशन

इशान किशन मस्‍ती करने वाले खिलाड़‍ियों में से एक माने जाते हैं और उन्‍होंने मैदान के कई मजेदार किस्‍से सुनाए। उन्‍हें एंटरटेनर के रूप में देखा जाता है, जो अपने बड़े शॉट्स से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करते हैं।

हालांकि, किशन का मानना है कि लोगों को नहीं पता कि उनके जैसे खिलाड़ी कितनी कड़ी मेहनत करके इस मुकाम तक पहुंचे हैं।

किशन ने कहा, 'लोग नहीं जानते कि खिलाड़ी किस जोन से आया है। कितनी कड़ी मेहनत उसने की है। वो इतने सालों में किन कठिनाइयों से गुजरा है। यहां तक हुआ कि खिलाड़ी को ट्रेन के बाथरूम के पास सोना पड़ा है।'

उन्‍होंने कहा, 'मगर ठीक है, आप लोगों को भी गलत नहीं ठहरा सकते हैं। वो भी अपनी जिंदगी में व्‍यस्‍त हैं। वो आपको अपने फ्री टाइम में देखते हैं और उसके हिसाब से जज करते हैं। अब यह बहुत मुश्किल हो गया है। लोग सोचते हैं कि 25 गेंदों में अर्धशतक जमाना बड़ा आसान है। आपने बहुत कुछ सीख लिया भाई अब गेंदबाजी भी सीख लो।'


Edited by Vivek Goel
reaction-emoji

Comments

comments icon1 comment

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...