Create

"लगा नहीं था कि मेरी बल्‍लेबाजी आएगी", तेजतर्रार पारी खेलने वाले लियाम लिविंगस्‍टोन ने दिया बयान

लियाम लिविंगस्‍टोन ने गुजरात के खिलाफ केवल 10 गेंदों में नाबाद 30 रन बनाए
लियाम लिविंगस्‍टोन ने गुजरात के खिलाफ केवल 10 गेंदों में नाबाद 30 रन बनाए
Vivek Goel

लियाम लिविंगस्‍टोन (Liam Livingstone) ने केवल 10 गेंदों में दो चौके और तीन छक्‍के की मदद से नाबाद 30 रन बनाए और पंजाब किंग्‍स (Punjab Kings) को मंगलवार को गुजरात टाइटंस (Gujarat Titans) पर 4 ओवर पहले ही 8 विकेट की जीत दिलाई।

उल्‍लेखनीय है कि लिविंगस्‍टोन ने मोहम्‍मद शमी द्वारा किए पारी के 16वें ओवर में अपनी सभी बाउंड्री जमाई। उन्‍होंने शमी के ओवर में पहली तीन गेंदों पर लगातार तीन छक्‍के जमाए और फिर चौथी व छठी गेंद पर चौके लगाए।

मैच के बाद लिविंगस्‍टोन ने बताया कि उन्‍हें उम्‍मीद ही नहीं थी कि बल्‍लेबाजी का मौका मिलेगा। याद हो कि मयंक अग्रवाल ने कहा था कि नंबर-4 पर वो उतरने वाले थे, लेकिन नेट रन रेट का सोचकर लिविंगस्‍टोन को पहले भेजा गया।

लियाम लिविंगस्‍टोन ने मैच के बाद कहा, 'मुझे नहीं लगा कि मुझे बल्‍लेबाजी का मौका मिलेगा। जाकर कुछ शॉट खेलकर अच्‍छा महसूस हुआ। मेरे ख्‍याल से धवन ने शानदार पारी खेलकर मैच हमारे लिए बना दिया था। उनकी और भानुका राजपक्षा की साझेदारी ने हमारे लिए मैच बिलकुल आसान कर दिया था। यह बड़ी जीत है।'

लिविंगस्‍टोन ने आगे कहा, 'हमने पिछले कुछ मैचों में खराब प्रदर्शन किया और आज मैच जीतकर अच्‍छा महसूस हो रहा है।' लियाम ने बताया कि नेट रन रेट के बारे में हमने कुछ नहीं सोचा था। उन्‍होंने मयंक से एक बात की थी, जिसके कारण वो पहले बल्‍लेबाजी करने गए।

लिविंगस्‍टोन ने कहा, 'नेट रन रेट के बारे में कुछ नहीं सोचा था। मैंने और मयंक ने बात कर रखी थी। अगर शिखर आउट होते तो मयंक बल्‍लेबाजी करने जाता और अगर भानुका आउट होते तो मेरा नंबर आता। भानुका आउट हुए तो मैं बल्‍लेबाजी करने चला गया। यह अच्‍छा है। हमें अपनी भूमिका पता है।'

लिविंगस्‍टोन ने कप्‍तान मयंक अग्रवाल की तारीफ करते हुए कहा, 'मिडिल ऑर्डर में मयंक का रहना अच्‍छा है। अगर जल्‍दी विकेट गिरते हैं तो मयंक स्थिति संभाल सकते हैं। आज की जीत बड़ी है और इससे सभी को सीख मिली होगी।'

पंजाब किंग्‍स के ऑलराउंडर ने आगे कहा, 'आपको इस तरह की पिच पर स्‍मार्ट क्रिकेट खेलनी होती है और हमने आज ऐसा करके दिखाया। मेरे ख्‍याल से शिखर धवन ने शानदार तरीके से पारी खेली। हमने फैसला किया था कि राशिद खान के ओवर निकालेंगे। हमने सफलतापूर्वक ऐसा किया। यह सकारात्‍मक पक्ष रहा और हमने सही शॉट खेलने का अपना सही समय चुना।'


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...