Create

पंजाब किंग्‍स के कप्‍तान मयंक अग्रवाल के बारे में हेड कोच अनिल कुंबले ने दिया बड़ा बयान

पंजाब किंग्‍स के कप्‍तान मयंक अग्रवाल की हेड कोच अनिल कुंबले ने जमकर तारीफ की
पंजाब किंग्‍स के कप्‍तान मयंक अग्रवाल की हेड कोच अनिल कुंबले ने जमकर तारीफ की

पंजाब किंग्‍स (Punjab Kings) के हेड कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) ने बुधवार को टीम के कप्‍तान मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) की जमकर तारीफ की। कुंबले का मानना है कि मौजूदा आईपीएल (IPL 2022) में पंजाब की अगुवाई करने के लिए मयंक अग्रवाल उपयुक्‍त दावेदार हैं।

पंजाब किंग्‍स ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया, जिसमें कुंबले ने कहा कि वो कई सालों से अग्रवाल को जानते हैं। कुंबले का मानना है कि 31 साल के मयंक पिछले दो सीजन से टीम के लीडरशिप ग्रुप का अतुल्‍नीय हिस्‍सा रहे हैं।

अनिल कुंबले ने कहा, 'मयंक अग्रवाल को फ्रेंचाइजी के साथ चार साल हो गए हैं। मैंने पिछले दो साल से उनके साथ काम किया है। मैं मयंक को लंबे समय से जानता हूं, आरसीबी के दिनों से और तब से जब वो कर्नाटक के लिए खेलते थे।'

कुंबले ने आगे कहा, 'उसमें सभी गुण हैं। वो पिछले कुछ सालों से लीडरशिप ग्रुप का हिस्‍सा रहे हैं। उन्‍होंने व्‍यक्तिगत रूप से कड़ी मेहनत की है। उसने भारतीय टीम में अपने प्रदर्शन के दम पर जगह बनाई। वो शानदार टीम मैन है। हम यह देख चुके हैं और वो अपनी बातों को बहुत अच्‍छी तरह बताता है। खिलाड़‍ियों के साथ उसका व्‍यवहार अच्‍छा है।'

पंजाब किंग्‍स के ऑलराउंडर ऋषि धवन ने कुंबले की बात पर सहमति जताते हुए कहा कि मयंक अग्रवाल कप्‍तान के रूप में अच्‍छा काम कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि कप्‍तान अपने खिलाड़‍ियों से अच्‍छी तरह बात कर रहा है और टीम माहौल पर उसका सकारात्‍मक प्रभाव है।

ऋषि धवन ने समझाया, 'मयंक कप्‍तान के रूप में बहुत अच्‍छा है। हमारी टीम में अभी का माहौल शानदार है। मैं ध्‍यान दिया तो पाया कि मयंक सभी से अच्‍छी तरह बात करता है। हर किसी को अपना लक्ष्‍य पता है और यह जानते हैं कि टीम एक ही दिशा में आगे बढ़ रही है। इसके चलते हम अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं और टीम एकजुट होकर खेल रही है।'

पता हो कि मयंक अग्रवाल सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच नहीं खेल सके थे। उनके पैर की अंगूली में चोट लगी थी। अब उन्‍होंने पूरी फिटनेस हासिल की और दिल्‍ली कैपिटल्‍स के खिलाफ मुकाबला खेला। हालांकि, पंजाब किंग्‍स को इन दोनों मुकाबलों में शिकस्‍त का सामना करना पड़ा है। मयंक अग्रवाल की कोशिश मिसाल बनकर टीम का नेतृत्‍व करने की होगी और अगले मैच में वो टीम को जीत की पटरी पर लौटाने की कोशिश करेंगे।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment