Create

राजस्‍थान की रोमांचक जीत के बाद संजू सैमसन ने नो बॉल कंट्रोवर्सी पर दिया बड़ा बयान

संजू सैमसन ने कहा कि अंपायर ने इसे नो बॉल नहीं माना और वो अपने फैसले पर डटे रहे (फोटो साभार-आईपीएल)
संजू सैमसन ने कहा कि अंपायर ने इसे नो बॉल नहीं माना और वो अपने फैसले पर डटे रहे (फोटो साभार-आईपीएल)
Vivek Goel

राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) ने शुक्रवार को मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम पर आईपीएल 2022 (IPL 2022) के 34वें मैच में दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) को 15 रन से हरा दिया।

यह मुकाबला बेहद रोमांचक रहा और मैच के आखिरी ओवर में नो बॉल को लेकर कंट्रोवर्सी भी हुई। बता दें कि राजस्‍थान रॉयल्‍स ने पहले बल्‍लेबाजी की और निर्धारित 20 ओवर में 2 विकेट खोकर 222 रन बनाए। जवाब में दिल्‍ली कैपिटल्‍स की टीम 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 207 रन बना सकी।

दिल्‍ली को आखिरी ओवर में 36 रन की दरकार थी। आखिरी ओवर में रोवमैन पॉवेल ने ओबेड मैकॉय की लगातार तीन गेंदों पर तीन छक्‍के जमा दिए थे। तीसरी गेंद फुलटॉस थी, जिस पर पॉवेल ने मिडविकेट के ऊपर से छक्‍का जमाया। यहीं से विवाद शुरू हुआ।

दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने अंपायर से इसे नो बॉल देने की मांग की। अंपायर ने दिल्‍ली की अपील नहीं मानी, तो पंत ने अपने खिलाड़‍ियों को बाहर बुलाने का इशारा किया। काफी बातचीत के बाद खेल दोबारा शुरू हुआ और मैकॉय ने अपनी लेंथ सुधारते हुए रॉयल्‍स को 15 रन से जीत दिला दी। नो बॉल कंट्रोवर्सी मैच में आकर्षण का केंद्र बन गई।

राजस्‍थान रॉयल्‍स के कप्‍तान संजू सैमसन ने मैच के बाद नो बॉल विवाद पर अपनी चुप्‍पी तोड़ी। सैमसन ने कहा, 'वो गेंद छक्‍के के लिए गई। वो फुलटॉस थी और अंपायर ने इसे आम गेंद माना। मगर बल्‍लेबाज चाहता था कि इसे नो बॉल दिया जाए। मेरे ख्‍याल से अंपायर ने अपना फैसला स्‍पष्‍ट रूप से दिया था और वो उस पर डटे रहे।'

सैमसन ने आगे कहा, 'मेरे ख्‍याल से हम सभी मैकॉय के पास रहना चाहते थे। 36 रन की रक्षा करते हुए एक गेंदबाज के लिए लगातार तीन छक्‍के लगवाने के बाद वापसी करना आसान नहीं होता। हम कुछ समय लेना चाहते थे। इस विवाद से कुछ समय मिला। हम सब मैकॉय के पास थे। हम चाहते थे कि उनके चेहरे पर मुस्‍कान लौटे। यह काम आसान नहीं था, लेकिन हम चाहते थे कि उसे थोड़ा राहत मिले और हमने उसे बताया कि हमने योजना बदल दी है।'

रॉयल्‍स के कप्‍तान ने आगे कहा, 'मेरे ख्‍याल से हम उस समय वाइड यॉर्कर डालना चाहते थे और उस समय वो विश्‍वास से लबरेज थे। मेरा मानना था कि एक चौका लग जाए और फिर बाउंड्री के बड़े साइड पर वापसी हो। हम धीमी गति की गेंदबाजी करना चाहते थे और यह कारगर साबित हुई।'

संजू ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से यह शानदार प्रदर्शन रहा। पिछला मैच भी कड़ा था, काफी चुनौतीपूर्ण था। रोवमैन पॉवेल जैसा बल्‍लेबाज क्रीज पर हो तो आपको अपनी शक्ति से चुनौती देता है। इस मुकाबले में पिच को देखते हुए कोई भी लक्ष्‍य हासिल किया जा सकता था। इसलिए जरूरी था कि शांत रहे और पता हो कि अपने गेंदबाजों का उपयोग कैसे करना है।'

संजू सैमसन ने कहा, 'शांत रहना, अपनी टीम के साथियों पर विश्‍वास करना और टीम पर भरोसा जताना महत्‍वपूर्ण है। आपको अपने ऊपर विश्‍वास होना चाहिए।'

अपनी टीम के स्पिनर्स की तारीफ करते हुए संजू सैमसन ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से इस तरह की स्थिति में गेंदबाजी करने के लिए हमारे गेंदबाज पर्याप्‍त अनुभवी हैं। रविचंद्रन अश्विन और युजवेंद्र चहल का अनुभव बीच के ओवरों में काम आया और हम इसे जारी रखना चाहेंगे।' पता हो कि राजस्‍थान रॉयल्‍स की टीम इस जीत के साथ अंक तालिका में टॉप पर पहुंच गई है।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...