Create

WTC Final: टीम इंडिया के लिए पहली पारी में क्‍या होगा आदर्श स्‍कोर? इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान ने किया खुलासा

विराट कोहली और अजिंक्‍य रहाणे
विराट कोहली और अजिंक्‍य रहाणे

इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान माइकल वॉन का मानना है कि साउथैम्‍प्‍टन में जारी विश्व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल की पहली पारी में 225 रन का स्‍कोर अच्‍छा होगा। वॉन ने चुनौतीपूर्ण स्थितियों में अच्‍छी तरह खेलने के लिए भारतीय बल्‍लेबाजों की तारीफ भी की है।

न्‍यूजीलैंड ने टॉस जीतकर भारत को डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में पहले बल्‍लेबाजी का न्‍योता दिया। टीम इंडिया ने 65वें ओवर में 146/3 का स्‍कोर बना लिया था, जब खराब रोशनी के कारण खेल रोक दिया गया। भारतीय कप्‍तान विराट कोहली 44* और उप-कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे 29* रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं।

अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर वॉन ने दावा किया कि टीम इंडिया के पास डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में बेहतर करने का मौका है, अगर वो पहली पारी में 225 का स्‍कोर बना ले।

उन्‍होंने ट्वीट किया, 'साउथैम्‍प्‍टन में मुझे 225 अच्‍छा स्‍कोर नजर आ रहा है। भारत ने अब तक इन स्थितियों में अच्‍छा प्रदर्शन किया है, वो ऐसे में विश्व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल नहीं हारेगा। खैर, अब नॉर्थ में जी एंड टी का समय है।'

बता दें कि डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में टीम इंडिया को ओपनर्स रोहित शर्मा (34) और शुभमन गिल (28) ने 62 रन की साझेदारी करके दमदार शुरूआत दिलाई। काइल जेमिसन ने रोहित शर्मा को स्लिप में टिम साउदी के हाथों कैच आउट कराकर इस साझेदारी को तोड़ा। जल्‍द ही नील वैगनर ने शुभमन गिल को विकेटकीपर बीजे वॉटलिंग के हाथों कैच आउट कराकर भारत को दूसरा झटका दिया।

इसके बाद चेतेश्‍वर पुजारा (8) भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे और बोल्‍ट की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू आउट होकर पवेलियन लौटे। यहां से भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली और उप-कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे ने पारी को संभाला। दोनों ने गेंदबाजों का डटकर मुकाबला किया और भारतीय टीम की दमदार वापसी कराई।

शेन वॉर्न ने न्‍यूजीलैंड के टीम सेलेक्‍शन पर खड़े किए सवाल

ऑस्‍ट्रेलिया के महान लेग स्पिनर शेन वॉर्न को न्‍यूजीलैंड का फैसला पसंद नहीं आया कि उसने चार तेज गेंदबाजों के साथ मैदान संभाला। उन्‍होंने ध्‍यान दिलाया कि अगर पिच पर गेंद स्विंग हो रही है तो स्पिन मिलने का पूरा मौका है। उन्‍होंने साथ ही लिखा कि अगर भारत ने पहले बल्‍लेबाजी करके 275-300 रन बनाए, तो वह मैच में ड्राइविंग सीट पर होगी।

वॉर्न ने ट्वीट किया, 'बहुत निराश हूं कि न्‍यूजीलैंड ने विश्व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में स्पिनर को नहीं खिलाया क्‍योंकि इस विकेट पर बहुत स्पिन होगी क्‍योंकि पैरों के निशान पिच पर बन चुके हैं। याद रहे कि अगर यहां स्पिन भी होगी। भारत ने अगर 275 या 300 से ज्‍यादा का स्‍कोर बनाया तो मैच खत्‍म। फिर मौसम ही बचा सकेगा।'

जहां न्‍यूजीलैंड ने चार तेज गेंदबाजों और तेज गेंदबाज ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैंडहोम के साथ मैदान संभाला, वहीं भारतीय टीम ने अपने दोनों स्पिनर्स को मौका दिया है।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment