'रोहित शर्मा को भारतीय टी20 टीम की कप्‍तानी सौंप देनी चाहिए'

रोहित शर्मा
रोहित शर्मा

भारतीय टीम को विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्‍यूजीलैंड के हाथों शिकस्‍त मिली, जिसके बाद विराट कोहली की कप्‍तानी पर एक बार फिर सवाल खड़े होने लगे हैं। इंग्‍लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पनेसर का मानना है कि टी20 क्रिकेट में भारतीय टीम की कप्‍तानी रोहित शर्मा को सौंप देनी चाहिए।

स्प्लिट कप्‍तानी (अलग प्रारूपों में कप्‍तान) पर लंबे समय से बहस चल रही है। जहां इंग्‍लैंड, ऑस्‍ट्रेलिया, श्रीलंका, वेस्‍टइंडीज, बांग्‍लादेश और अफगानिस्‍तान के पास एक से ज्‍यादा राष्‍ट्रीय कप्‍तान हैं। वहीं भारत, पाकिस्‍तान और न्‍यूजीलैंड के पास सभी प्रारूपों में एक ही कप्‍तान है।

अब आगे आईसीसी के कई टूर्नामेंट्स आने हैं तो कई लोगों ने सलाह दी है कि भारत को कोहली के कंधों से भार कम करने के लिए अपने संसाधनों का बेहतर इस्‍तेमाल करना चाहिए।

वैसे, यह पहला मौका नहीं है जब किसी विशेषज्ञ ने कहा हो कि रोहित शर्मा को भारतीय टीम की कप्‍तानी संभालनी चाहिए। रोहित शर्मा ने कम समय में कप्‍तान के रूप में अपनी क्षमता साबित की है। रोहित शर्मा के नेतृत्‍व में भारतीय टीम ने एशिया कप और निदाहास ट्रॉफी का खिताब जीता था।

रोहित शर्मा का आईपीएल में बतौर कप्‍तान रिकॉर्ड बेमिसाल है। वह लीग में सबसे ज्‍यादा (पांच) खिताब जीतने वाले कप्‍तान है। 2013 में रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस की पहली बार कमान संभाली थी।

वहीं अंतरराष्‍ट्रीय करियर में रोहित शर्मा ने 10 वनडे में से भारत को 8 जीत दिलाई जबकि 19 टी20 इंटरनेशनल मैचों में उनके कप्‍तान रहते भारत ने 15 जीत दर्ज की।

मुंबई इंडियंस के लिए रोहित शर्मा ने शानदार काम किया: मोंटी पनेसर

मोंटी पनेसर ने क्रिकबाउंसर से बातचीत में कहा, 'मेरा मानना है कि टी20 की कप्‍तानी रोहित शर्मा को दे देनी चाहिए। उन्‍होंने मुंबई इंडियंस के लिए शानदार काम किया है।' पनेसर ने आगे कहा कि विराट कोहली दबाव में रहेंगे।

पनेसर ने कहा, 'आप जानते हैं कि विराट कोहली यहां दबाव में हैं क्‍योंकि अगर उनकी टीम ने इंग्‍लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज में बेहतर प्रदर्शन नहीं किया और आईसीसी टी20 विश्‍व कप 2021 का खिताब नहीं जीता तो आप समझ सकते हैं कि क्‍या हो सकता है।'

मोंटी पनेसर ने आगे कहा, 'मेरे ख्‍याल से इंग्‍लैंड के खिलाफ भारतीय टीम को ज्‍यादा बड़ा खतरा नहीं है क्‍योंकि मेजबान टीम का बल्‍लेबाजी क्रम ज्‍यादा मजबूत नहीं है। ऐसे में भारतीय टीम के हमेशा मैच में बने रहने की उम्‍मीद है।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel