WTC Final: नील वैगनर की घातक बाउंसर पर बाल-बाल बचे चेतेश्‍वर पुजारा, हवा में उड़ गया सॉफ्ट प्रोटेक्‍शन

चेतेश्‍वर पुजारा
चेतेश्‍वर पुजारा

न्‍यूजीलैंड के तेज गेंदबाज नील वैगनर की घातक बाउंसर पर चेतेश्‍वर पुजारा बाल-बाल बचे, लेकिन उनके हेलमेट पर लगा सॉफ्ट प्रोटेक्‍शन हवा में उड़कर दूर जाकर‍ गिरा। नील वैगनर ने अपने गेंदबाजी स्‍पेल की शुरूआत में काफी फुल लेंथ गेंदें डाली थी। मगर फिर पुजारा और कोहली के खिलाफ उन्‍होंने अपनी लेंथ बदली और कुछ शानदार बाउंसर डाली।

मजबूत तकनीक वाले बल्‍लेबाज पुजारा ने कई बाउंसर पर अपना अच्‍छे से बचाव किया और गेंद को विकेटकीपर के पास जाने दिया, लेकिन 37वें ओवर की दूसरी गेंद पर उनको तगड़ा झटका लगा।

चेतेश्‍वर पुजारा को पुल शॉट खेलने में थोड़ी देरी हो गई और गेंद सीधे उनके हेलमेट के ग्रिल पर जाकर लगी। तभी हेलमेट के पिछले भाग में लगा सॉफ्ट रबर प्रोटेक्‍शन हवा में उड़ गया।

सबसे पहले वैगनर ने पुजारा का हाल जाना। फिर न्‍यूजीलैंड के खिलाड़‍ियों ने पुजारा से उनका हाल पूछा। इसके बाद फिजियो ने पुजारा की अच्‍छे से जांच की। पुजारा शुरूआत में थोड़ा हैरान दिखे, लेकिन फिर वह उन्‍होंने संकेत दिया कि वह खेलने के लिए तैयार हैं।

पुजारा इसके बाद ज्‍यादा देर क्रीज पर टिक नहीं पाए। तीन ओवर के बाद बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्‍ट ने शानदार इनस्विंग डालकर पुजारा को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। बल्‍लेबाज ने रिव्‍यु नहीं लिया और 54 गेंदों में 8 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। रीप्‍ले में दिखा कि बोल्‍ट की गेंद एकदम सही थी और अगर पुजारा रिव्‍यु लेते तो वह बर्बाद हो जाता। इससे पहले शुभमन गिल को काइल जेमिसन की गेंद हेलमेट पर लगी थी।

पहला रन बनाने के लिए किया 36 गेंदों का सामना

रोहित शर्मा और शुभमन गिल के आउट होने के बाद भारत के लिए जरूरी था कि चेतेश्‍वर पुजारा पारी को संभाले। 33 साल के बल्‍लेबाज ने पहला रन बनाने के लिए 36 गेंदों का सामना किया। आउट होने से पहले पुजारा ने दो शानदार चौके जमाए।

अब भारतीय कप्‍तान विराट कोहली और अजिंक्‍य रहाणे पर टीम की पारी का दारोमदार है। कोहली (44*) और रहाणे (22*) रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। भारतीय टीम ने 58.4 ओवर में तीन विकेट खोकर 146 रन बना लिए हैं।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment