Create

'एक खराब प्रदर्शन और मीडिया इसे 100 बार दिखा चुका है', महान कप्‍तान ने निकाली भड़ास

भारतीय टीम
भारतीय टीम

1983 विश्‍व कप चैंपियन‍ कप्‍तान कपिल देव ने साउथैम्‍प्‍टन में न्‍यूजीलैंड के हाथों विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में 8 विकेट की करारी शिकस्‍त झेलने वाली भारतीय टीम का बचाव किया है।

कपिल देव ने कहा कि प्रत्‍येक खराब मैच के बाद मीडिया आलोचना बहुत ज्‍यादा कर देता है और टूर्नामेंट में बेहतर प्रदर्शन पर ध्‍यान नहीं देता।

विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल की हार भारत की 2013 के बाद से आईसीसी के टूर्नामेंट में लगातार पांचवीं हार है। विराट कोहली की टीम दबाव में बिखर गई। कपिल देव का कहना है कि सेमीफाइनल या फाइनल में पहुंचना भी अपने आप में उपलब्धि ही है।

उन्‍होंने कहा कि भारतीय टीम ने इसी प्रकार की परिस्थितियों में कई मुकाबले भी जीते हैं तो एक खराब मैच उनके प्रदर्शन को समझा नहीं सकता।

कपिल देव ने स्‍पोर्ट्स यारी यूट्यूब चैनल से बातचीत में कहा, 'मुझे एक बात बताओ। भारतीय टीम हर बार सेमीफाइनल या फाइनल में पहुंची, क्‍या ये अपने आप में उपलब्धि नहीं है? हम आलोचना बड़ी जल्‍दी करते हैं। आप हार बार ट्रॉफी नहीं जीत सकते। ये देखिए कि उन्‍होंने कितना अच्‍छा खेला।'

देव ने आगे कहा, 'अगर भारतीय टीम यहां या फिर विश्‍व कप सेमीफाइनल हारी, तो इसका मतलब ये हुआ कि वो दबाव में दब गए? नहीं ऐसा नहीं होता है। विरोधी टीम का अच्‍छा दिन था। उन्‍होंने अच्‍छा खेला। हम इसको बहुत अलग तरीके से देखते हैं। एक खराब प्रदर्शन और मीडिया इसे 100 बार दिखाएगा।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'ये लड़के दबाव नहीं ले सकते, दबाव नहीं ले सकते।' हम सभी ने दबाव में रहते हुए काफी मैच जीते हैं।

ध्‍यान हो कि भारतीय टीम पहले डब्‍ल्‍यूटीसी में 12 जीत, चार हार और एक ड्रॉ के साथ अंक तालिका में शीर्ष स्‍थान पर थी। न्‍यूजीलैंड की टीम इस बीच टॉप-8 टीमों में सबसे कम मैच खेलकर फाइनल में पहुंची थी। कीवी टीम ने 11 मैच खेले थे, जिसमें से सात में जीत दर्ज की थी।

इंग्‍लैंड के खिलाफ दमदार प्रदर्शन करना चाहेगी 'विराट ब्रिगेड'

विराट कोहली भले ही डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में अपना जलवा दिखाने में नाकाम रहे हो, लेकिन कुछ ही सप्‍ताह बाद उन्‍हें एक बार फिर खुद को साबित करने का मौका मिलने वाला है।

भारत ने आखिरी बार 2007 में इंग्‍लैंड में टेस्‍ट सीरीज जीती थी। 2018 में भारतीय टीम एक दशक में सबसे प्रतिस्‍पर्धी टीम लगी थी, लेकिन अहम मौकों पर उससे चूक हुई और सीरीज 1-4 से गंवा बैठी थी।

विराट कोहली की कोशिश आगामी सीरीज में इतिहास रचने पर होगी। भारत और इंग्‍लैंड के बीच 4 अगस्‍त को पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज का पहला मैच ट्रेंटब्रिज में खेला जाएगा।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
1 comment