Create
Notifications

विश्‍व कप की मेजबानी हासिल करने के लिए ये चाल चलेगा पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड

एहसान मनी
एहसान मनी
reaction-emoji
Vivek Goel

पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) दो विश्‍व कप की संयुक्‍त मेजबानी हासिल करने के लिए श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) और बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के साथ संघ बनाना चाहता है। पीसीबी का इरादा संयुक्‍त अरम अमीरात में अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के साथ मिलकर दो ट्वेंटी-20 विश्‍व कप आयोजित कराना भी है। फिर अगले विश्‍व क्रिकेट साइकिल में वह दो चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी के लिए अकेले नामांकन भरेगा।

पीसीबी ने हाल ही में बयान दिया था कि उसने छह वैश्विक इवेंट्स में बोलियां प्रदान की है। क्रिकबज की रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण एशियाई बोर्ड्स के साथ इनमें से दो बोलियां प्रस्‍तावित की गई हैं।

पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, 'हमने आईसीसी के सामने बोली लगाई है और बांग्लादेश और श्रीलंका बोर्ड के साथ कंसोर्टियम बनाने का प्रस्ताव रखा है। इसी तरह हम यूएई बोर्ड के साथ भी सहयोग करना चाहते हैं।'

यह जानकारी मिली है कि पीसीबी 2027 और 2031 विश्‍व कप की मेजबानी एसएलसी और बीसीबी के साथ संयुक्‍त रूप से हासिल करना चाहता है। इसके अलावा यूएई बोर्ड के साथ मिलकर वो दो टी20 विश्‍व कप आयोजित कराना चाहता है। 2025 और 2029 चैंपियंस ट्रॉफी के लिए पीसीबी अकेले आयोजन के लिए नामांकन भरेगा।

मेजबानी के लिए बोली में पीसीबी को अन्‍य बोर्डों से कड़ी स्‍पर्धा मिलेगी। बीसीसीआई 2025 चैंपियंस ट्रॉफी, 2028 टी20 विश्‍व कप और 2031 विश्‍व कप की मेजबानी हासिल करना चाहता है।

पाकिस्‍तान ने 25 साल से वैश्विक चैंपियनशिप की मेजबानी नहीं की है। इसके कई कारण है। पाकिस्‍तान में आखिरी आईसीसी इवेंट हुआ था 1996 विश्‍व कप जो कि बीसीसीआई और एसएलसी के सहयोग से आयोजित किया गया था। तब पिलकॉम (पाकिस्‍तान भारत लंका समिति बनी थी। पाकिस्‍तान पहले 2011 विश्‍व कप के लिए बीसीसीआई, बीसीबी और एसएलसी के साथ दक्षिण एशियाई ग्रुप का हिस्‍सा था। मगर सुरक्षा कारणों से पाकिस्‍तान में मैचों का आयोजन नहीं कराया गया।

17 बोर्डों ने आयोजन में दिखाई दिलचस्‍पी

आईसीसी ने हाल ही में पुष्टि की थी कि 17 बोर्डों ने 2024 से 2031 के बीच इवेंट्स आयोजन में दिलचस्‍पी दिखाई है। आईसीसी ने खुलासा किया कि ऑस्‍ट्रेलिया, बांग्‍लादेश, इंग्‍लैंड, भारत, आयरलैंड, मलेशिया, नामीबिया, न्‍यूजीलैंड, ओमान, पाकिस्‍तान, स्‍कॉटलैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्‍टइंडीज, यूएई, यूएसए और जिंबाब्‍वे से आवेदन प्राप्‍त हुए हैं। बोली लगाने की आखिरी तारीख 30 जून थी।

आईसीसी विस्‍तृत प्रस्‍ताव को देखेगा और साल के अंत में फैसला लेगा। बोर्ड एक स्‍वतंत्र समिति की नियुक्ति करेगा, जो आखिरी फैसला लेगा। फैसला लेने से पहले कई पहुलओं पर ध्‍यान दिया जाएगा।

सूत्रों से जानकारी मिली है निर्माण, संस्‍था, वैश्विक इवेंट्स के आयोजन का अनुभव, खेल का विकास, स्थिरता, सुरक्षा, घटना के लिए दृष्टि और वाणिज्यिक गतिशीलता पर ध्‍यान दिया जाएगा।


Edited by Vivek Goel
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...