Create

'रविंद्र जडेजा बल्‍लेबाजी में काफी गहराई लेकर आए हैं'

रविंद्र जडेजा
रविंद्र जडेजा

कुलदीप यादव ने दावा किया कि रविंद्र जडेजा की बल्‍ले और गेंद से प्रदर्शन करने की क्षमता ने उन पर और युजवेंद्र चहल पर कुछ हद तक दबाव बनाया है। पिछले कुछ सालों में टीम से अंदर-बाहर हो रहे कुलदीप यादव ने 2019 विश्‍व कप के बाद प्‍लेइंग इलेवन में अपनी स्‍थायी जगह गंवा दी। टीम प्रबंधन ने पिछले कुछ समय में जडेजा-चहल के संयोजन को ज्‍यादा महत्‍व दिया है।

टीम संयोजन में जडेजा के महत्‍व पर चहल के बयान के बाद कुलदीप यादव ने कहा कि बाएं हाथ के बल्‍लेबाज भारतीय टीम की बल्‍लेबाजी में काफी गहराई लेकर आए हैं। कुलदीप यादव ने क्रिकट्रेकर से बातचीत में कहा, 'जी हां, यह निर्भर करता है कि टीम को क्‍या चाहिए। टीम संयोजन काफी महत्‍व रखता है और मेरा निजी तौर पर मानना है कि जडेजा बल्‍लेबाजी में काफी गहराई लेकर आए हैं। वह गेंद और बल्‍ले दोनों से प्रदर्शन करते हैं। इसलिए हमेशा उनके और हमारे बीच चयन में मुश्किल होती है।'

टीम इंडिया के चाइनामैन ने कड़े दौर से गुजरने के बारे में बातचीत की और कहा कि पिछले दो साल उनके लिए काफी कठिन रहे, लेकिन उन्‍हें पता है कि टीम की बेहतरी के लिए कभी आपको अपने स्‍थान से समझौता करना पड़ता है।

कुलदीप ने कहा, 'मुझे लगता है कि ज्‍यादा मैच खेलने चाहिए क्‍योंकि जब आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपकी लय और विश्‍वास दोनों में कमी आती है। नियमित खेलने से विश्‍वास और लय दोनों ऊंचे रहते हैं। हां, पिछले दो साल कठिन और मेरे लिए काफी अलग रहे। मुझे टीम संयोजन के कारण मौका नहीं मिला और कभी आपको अपने स्‍थान का समझौता करने की जरूरत भी होती है। हालांकि, कुछ मैच मेरे पक्ष में नहीं गए, लेकिन आप हमेशा कड़ी मेहनत करके लय बरकरार रखने की कोशिश करते हैं। आपका समय संभवत: आएगा।'

टीम प्रबंधन से काफी समर्थन मिला: कुलदीप यादव

हालांकि, कम मौके मिलने के बावजूद कुलदीप यादव ने टीम प्रबंधन की तारीफ की और कहा कि कड़े समय में उन्‍हें कप्‍तान विराट कोहली और कोच रवि शास्‍त्री से लेकर सभी का समर्थन मिला।

कुलदीप यादव ने कहा, 'इस कड़े समय में टीम प्रबंधन से काफी समर्थन मिला। सबसे अच्‍छी बात यह रही कि वो हमेशा मुझे बताते हैं कि टीम में क्‍या हो रहा है और वो अभी क्‍या चाहते हैं। विराट कोहली और रवि शास्‍त्री नियमित तौर पर मुझसे बातचीत करते हैं और बताते हैं कि मैच में किन चीजों की जरूरत है। भरत अरुण भी टीम प्रबंधन के साथ काफी समर्थन करते हैं।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment