Create

"विराट कोहली भारत के महान कप्‍तानों में से एक नहीं", पूर्व भारतीय खिलाड़ी का बयान

संजय मांजरेकर ने कहा कि उनकी नजर में विराट कोहली महान भारतीय कप्‍तान नहीं हैं
संजय मांजरेकर ने कहा कि उनकी नजर में विराट कोहली महान भारतीय कप्‍तान नहीं हैं

विराट कोहली (Virat Kohli) ने हाल ही में भारतीय टेस्‍ट टीम (India Cricket team) की कप्‍तानी से इस्‍तीफा दिया। वह क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में भारत के सबसे सफल टेस्‍ट कप्‍तान बनकर कप्‍तानी से हटे। कोहली ने 68 मैचों में कप्‍तानी की, जिसमें से टीम को 40 मैचों में जीत दिलाई। यह टेस्‍ट इतिहास में किसी भारतीय कप्‍तान द्वारा सबसे ज्‍यादा टेस्‍ट जीत का रिकॉर्ड है।

विराट कोहली अगर अगले कुछ साल और कप्‍तानी जारी रखते तो संभवत: दुनिया के सबसे सफल टेस्‍ट कप्‍तान बनते। कप्‍तानी छोड़ने के उनके फैसले ने क्रिकेट जगत को हिलाकर रख दिया था। फिर भी कोहली एक विरासत छोड़ गए, जिसकी बराबरी करना आने वाले कप्‍तानों के लिए आसान नहीं होगी।

इस बीच पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने कोहली के टेस्‍ट कप्‍तानी की समीक्षा की और उनके कभी हार नहीं मानने वाले एटीट्यूड की तारीफ की।

मांजरेकर के हवाले से न्‍यूज18 ने कहा, 'जब आप कोहली को देखते हैं तो उसके बारे में पसंद करने वाली कई चीजें हैं क्‍योंकि वो ऐसा है, जिसने मिसाल बनकर नेतृत्‍व किया। इस सीरीज से पहले वांडरर्स टेस्‍ट मैच में जब भारत खतरनाक पिच पर खेल रहा था। भारत सीरीज 2-0 से हार गया था, लेकिन कोहली ने उदाहरण बनकर कप्‍तानी की।'

मांजरेकर ने आगे कहा, 'कोहली ने कहा कि वो यह मैच जीतना चाहते हैं बावजूद इसके कि पिच किसी की जान ले ले। इससे भारतीय टीम का जोश बढ़ा। यह आपको विराट कोहली से मिलता है। कभी हार नहीं मानने वाला एटीट्यूड। विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत हार गया। मगर आखिरी मिनट ने विराट कोहली के जरिये भारतीय टीम ने मैच बचाने के लिए लड़ाई की। मगर आखिरकार आपको नतीजों के बारे में बात करनी होती है। नतीजे नहीं आ रहे थे।'

विराट कोहली नहीं महान कप्‍तान: संजय मांजरेकर

मांजरेकर ने आगे दावा किया कि उनके लिए विराट कोहली महान भारतीय कप्‍तानों में से एक नहीं है। मांजरेकर ने कहा कि एमएस धोनी, सौरव गांगुली, कपिल देव और सुनील गावस्‍कर ने कोहली को इस श्रेणी में मात दी है।

मांजरेकर ने कहा, 'तो जब हम सर्वकालिक महान की बात करते हैं तो धोनी को इसमें शामिल नहीं करना नाइंसाफी होगी। कपिल देव उस जमाने में जब विश्‍व स्‍तर पर हीन भावना थी। मैच फिक्सिंग युग के बाद सौरव गांगुली का कप्‍तान बनना और भारत की विदेश में जीत। सुनील गावस्‍कर भी। तो यह महान कप्‍तान हैं।'

मांजरेकर ने आगे कहा, 'आप ऐसे समय में जी रहे हैं जहां कई प्‍लेटफॉर्म्‍स हैं, इसलिए हाइप ज्‍यादा है। मगर भारतीय क्रिकेट 10 साल पहले शुरू नहीं हुआ। ये ऐसे शख्‍स हैं जो मुझे लगता है कि विराट कोहली से बेहतर कप्‍तान हैं, जो अपने अधिकार में काफी अच्‍छे हैं।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
1 comment