Create
Notifications

'रोहित शर्मा का टेस्‍ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन आना बाकी है'

रोहित शर्मा
रोहित शर्मा
Vivek Goel
visit

टीम इंडिया के बल्‍लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ का मानना है कि रोहित शर्मा का टेस्‍ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन आना बाकी है। रोहित शर्मा ने घरेलू जमीन पर टेस्‍ट ओपनर के मौके को दोनों हाथों से भुनाया, लेकिन विदेशी परिस्थितियों में उनका बेहतरीन प्रदर्शन निकलकर आना बाकी है। मुंबई के बल्‍लेबाज के पास काफी अनुभव है और न्‍यूजीलैंड के खिलाफ विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में उनसे बहुत उम्‍मीदें की जा रही हैं।

रोहित शर्मा ने इंग्‍लैंड में खेले गए 2019 विश्‍व कप में 648 रन बनाए थे। इंग्लिश स्थितियों में रोहित शर्मा की टेस्‍ट ओपनर शैली का परीक्षण होगा। दाएं हाथ के बल्‍लेबाज को शुरूआत में थोड़ी दिक्‍कत हो सकती है, लेकिन अगर एक बार वह क्रीज पर जम गए तो फिर विरोधी टीम के लिए उन्‍हें आउट करना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

राठौड़ ने टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, 'रोहित शर्मा ऐसे व्‍यक्ति हैं, जो अपने आप पर नियंत्रण रखते हैं। उनके विचार, वो क्‍या हासिल करना चाहते हैं अैर यहां से वो कहां जाना चाहते हैं। यह सब रोहित शर्मा ही सोचते हैं। रोहित शर्मा के पास हमेशा से टेस्‍ट क्रिकेट में सफल होने के लिए खेल और प्रतिभा थी। बाद में यह हुआ कि उन्‍होंने इस प्रारूप में अपनी खेल योजना को सुलझा लिया। देखिए फिर ओपनर बनने के बाद उसने लाल गेंद क्रिकेट में किस तरह खेला है।'

यह ध्‍यान दिया गया है कि रोहित शर्मा अपनी पारी की शुरूआत में क्रीज पर जमने के लिए थोड़ा समय लेते हैं। व‍ह स्थिति को जानने के बाद बड़ी पारी खेलते हैं। राठौड़ ने कहा, 'रोहित शर्मा का गेम प्‍लान और मेथड शानदार है, जिसकी वजह से वह छोटे प्रारूपों में इतने रन बना सके। मगर शायद उसने ध्‍यान नहीं दिया कि लाल गेंद प्रारूप में किस तरह आगे बढ़ना है। आप अगर अब रोहित को टेस्‍ट क्रिकेट में देखेंगे तो पता चलेगा कि उनका गेम प्‍लान काफी सुलझा हुआ है।'

विक्रम ने आगे कहा, 'रोहित शर्मा लगातार इस पर काम करने की सोचता है। वो अब टेस्‍ट क्रिकेट में अपनी पारी के दौरान ज्‍यादा राहत और अनुशासन से खेलता है। वह क्रीज पर जमने के लिए अपना समय जरूर लेते हैं, लेकिन अगर क्रीज पर जम गए तो हम सभी को पता है कि उनकी क्षमता क्‍या है।'

रोहित का फर्स्‍ट क्‍लास करियर काफी प्रभावी: राठौड़

विक्रम राठौड़ ने कहा कि रोहित शर्मा तब बड़ा स्‍कोर बनाते है जब वो क्रीज पर जम जाते है और ऐसा वो फर्स्‍ट क्‍लास करियर में कर चुके है। रोहित शर्मा की फर्स्‍ट क्‍लास करियर में 55.41 की औसत रही है।

राठौड़ ने कहा, 'अगर आप रोहित शर्मा के फर्स्‍ट क्‍लास रिकॉर्ड को देखे, तो वो उनमें से एक हैं, जिन्‍होंने बड़े शतक जमाए हैं। वनडे और टी20 क्रिकेट में कभी यह मामला नहीं रहा कि 105, 110, 115 रन बनाए हो। एक बार वो क्रीज पर टिक जाए तो फिर खेलते जाते हैं। पिछले कुछ महीने उन्‍होंने दर्शाया कि टेस्‍ट क्रिकेट में क्‍या कर सकते हैं। टेस्‍ट क्रिकेट में रोहित ने शुरूआत की है। अगर वो अच्‍छी लय में नजर आए तो हम टेस्‍ट क्रिकेट में एकदम अलग रोहित को देखेंगे। उनका सर्वश्रेष्‍ठ आना बाकी है।'


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now