Create
Notifications

'श्रीलंका दौरे पर पृथ्‍वी शॉ को सभी मैच खेलने चाहिए' पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज ने जताई ये उम्‍मीद

पृथ्‍वी शॉ
पृथ्‍वी शॉ
reaction-emoji
Vivek Goel

वीवीएस लक्ष्‍मण ने कहा कि वह पृथ्‍वी शॉ को श्रीलंका दौरे पर सभी 6 मैचों में खेलते हुए देखना चाहते हैं।

शिखर धवन के नेतृत्‍व वाली 20 सदस्‍यीय भारतीय टीम इस समय श्रीलंका में है, जहां वो तीन वनडे और इतने ही मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज खेलेगी। पृथ्‍वी शॉ के अलावा धवन, देवदत्‍त पडिक्‍कल और रुतुराज गायकवाड़ भारतीय ओपनर्स के विकल्‍प हैं। इसके अलावा इशान किशन और नितीश राणा भी टी20 के लिए ओपनिंग के दावेदार हैं।

स्‍टार स्‍पोर्ट्स पर बातचीत करते हुए वीवीएस लक्ष्‍मण ने विचार दिया कि पृथ्‍वी शॉ को श्रीलंका दौरे पर ओपनिंग विकल्‍प के रूप में प्राथमिकता मिलनी चाहिए।

पूर्व भारतीय बल्‍लेबाज ने कहा, 'मैं पृथ्‍वी शॉ को श्रीलंका में सभी 6 मैच खेलते हुए देखना चाहूंगा। किसी को उनकी क्षमता पर शक नहीं है।' क्रिकेटर से कमेंटेटर बने लक्ष्‍मण ने प्रकाश डाला कि श्रीलंका दौरा पृथ्‍वी शॉ के लिए भारतीय टीम में अपनी जगह पक्‍की करने का शानदार मौका हो सकता है।

लक्ष्‍मण ने कहा, 'यह पृथ्‍वी शॉ के लिए शानदार मौका होगा क्‍योंकि वह सभी प्रारूपों में वापसी करना चाहेंगे।' पृथ्‍वी शॉ को ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के बाद भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया।

ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि शुभमन गिल चोटिल हैं तो उनकी जगह ओपनर के विकल्‍प के रूप में पृथ्‍वी शॉ इंग्‍लैंड में भारतीय टीम के साथ जुड़ेंगे।

विजय हजारे ट्रॉफी में पृथ्‍वी शॉ ने काफी प्रभावित किया: वीवीएस लक्ष्‍मण

वीवीएस लक्ष्‍मण ने पृथ्‍वी शॉ के विजय हजारे ट्रॉफी में प्रदर्शन की जमकर तारीफ की। शॉ ने मुंबई को अपनी कप्‍तानी में विजय हजारे ट्रॉफी का चैंपियन बनाया और 800 से ज्‍यादा रन बनाए। वह विजय हजारे ट्रॉफी के एक संस्‍करण में 800 या ज्‍यादा रन बनाने वाले पहले बल्‍लेबाज बने।

लक्ष्‍मण ने कहा, 'आईपीएल से ज्‍यादा मैं विजय हजारे ट्रॉफी में शॉ के कप्‍तानी प्रदर्शन से खुश हूं। उन्‍हें भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया था और उनकी तकनीक के बारे में काफी बातचीत भी हुई थी।'

सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर लक्ष्‍मण ने कहा कि पृथ्‍वी शॉ की बल्‍लेबाजी में बदलाव का प्रमाण आईपीएल में बखूबी देखने को मिला। उन्‍होंने कहा, 'विजय हजारे ट्रॉफी में हमें पृथ्‍वी शॉ में भूख दिखी। उन्‍होंने न सिर्फ शतक जमाए बल्कि मैच विजयी पारियां भी खेली। वह कप्‍तान के रूप में टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज भी बने। दूसरी बात कि आईपीएल में उनकी तकनीक में बदलाव भी दिखा। आप युवा बल्‍लेबाज में ऐसा देखना चाहते हैं।'

याद हो कि पृथ्‍वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में रिकॉर्ड 827 रन बनाए थे। इसके बाद आईपीएल 2021 के पहले चरण में उन्‍होंने 308 रन बनाए थे।


Edited by Vivek Goel
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...