Create

भारतीय खिलाड़ी ने कोविड-19 पीड़‍ितों की मदद क्‍यों करना शुरू की, बड़ी वजह का हुआ खुलासा

हनुमा विहारी
हनुमा विहारी
Vivek Goel

भारतीय टेस्‍ट टीम के मिडिल ऑर्डर के बल्‍लेबाज हनुमा विहारी इन दिनों इंग्‍लैंड में काउंटी क्रिकेट खेल रहे हैं, लेकिन उनका पूरा ध्‍यान भारत में लगा हुआ है। भारत इस समय कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है और ऐसे में हनुमा विहारी ने मदद के हाथ आगे बढ़ाए हैं। विहारी ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिये एक टीम बनाई, जो कोविड-19 पीड़‍ितों की हरसंभव मदद करने में लगी हुई है।

हनुमा विहारी फिलहाल भारत के दक्षिण क्षेत्र में ज्‍यादा सक्रिय हैं, जहां उनके प्रशंसकों की संख्‍या ज्‍यादा है। उन्‍हें उम्‍मीद है कि जल्‍द ही पूरे देश में मदद करने में कामयाब होंगे। हनुमा विहारी की तारीफ इसलिए भी हो रही है क्‍योंकि वह काउंटी क्रिकेट खेलने के साथ-साथ लोगों की मदद कर रहे हैं।

यह बल्‍लेबाज जरुरतमंदों के लिए ट्वीट करके उन्‍हें चीजें मुहैया कराने में अपना पूरा जोर लगा रहा है। अब तक विहारी ने कई लोगों को ऑक्सीजन, जीवन रक्षक दवाईयों के साथ ही आर्थिक मदद भी पहुंचाई है।

हनुमा विहारी ने द प्रिंट को दिए इंटरव्‍यू में खुलासा किया कि इन सभी की शुरूआत कैसे हुई। विहारी से जब पूछा गया कि आपको ऐसा करने का ख्‍याल कैसे आया तो भारतीय बल्‍लेबाज ने कहा, 'मेरी पत्‍नी की वजह से ऐसा कर पा रहा हूं।'

विहारी ने कहा, 'मैं प्रैक्टिस के बाद घर लौटा और टीवी देख रहा था। उस पर सोनू सूद के बारे में बता रहे थे। मेरी पत्‍नी प्रीति ने मुझसे कहा कि तुम ऐसा क्‍यों नहीं करते? तुम हमेशा से लोगों की मदद करना चाहते थे ना? उसके बोलने पर मुझे ऐसी शुरूआत करने का ख्‍याल मन में आया और फिर मैं इस काम में जुट गया। मैं खुशनसीब हूं कि इसमें मुझे अपनी पत्‍नी के साथ-साथ बहनों का भी साथ मिला। मेरे वोलंटियर्स का यहां विशेष जिक्र करना चाहूंगा क्‍यों‍कि वो लोग हर तरह से लोगों की मदद कर रहे हैं।'

लोगों से खुद को कनेक्‍ट कर पाया: विहारी

यह पूछने पर कि इंग्‍लैंड में हैं तो क्‍या ऐसा महसूस हुआ कि लोगों की मदद करना है। इस पर हनुमा विहारी ने कहा, 'भारत के लिए खेलने पर आपको कई असफलताओं का सामना करना पड़ता है। मैं देख पा रहा हूं कि लोग अपनी जिंदगी में जरूरी संसाधन जुटाने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। हमने भी अपने जीवन में कई असफलताएं झेली, इसलिए मैं लोगों से भावनात्‍मक रूप से जुड़ा और मदद करने में अपना योगदान दे पाया।'

क्रिकेट के साथ कैसे लोगों की मदद कर पा रहे हैं के जवाब में हनुमा विहारी की पत्‍नी प्रीति ने बताया कि क्रिकेटर रात में बहुत कम सो रहे हैं। प्रीति ने कहा, 'हनुमा विहारी बहुत कम समय सो रहे हैं और कड़ी मेहनत कर रहे हैं। वो एक घंटे अभ्‍यास करते हैं और फिर लौटकर मैसेज चेक करते हैं। हनुमा विहारी कम से कम 12-13 घंटे काम कर रहे हैं।'

हनुमा विहारी ने बताया कि उन्‍हें ट्विटर के माध्‍यम से काफी अच्‍छे लोग मिले। विहारी ने कहा कि मैंने मदद के लिए अपने फॉलोअर्स का सहारा लिया क्‍योंकि मुझे पता था कि अकेले कुछ नहीं कर सकता हूं। देखते ही देखते व्‍हाट्सऐप ग्रुप बन गया, जिसमें पूरे दिन जानकारी शेयर होती रहती है। उन्‍होंने कहा, 'हम कोविड-19 पीड़‍ित के मामले को सबसे पहले वेरिफाई करते हैं क्‍योंकि गलत जानकारी जाने से दिक्‍कतें होती हैं। हमारे वोलंटियर कड़ी मेहनत कर रहे हैं और जितना संभव हो सके लोगों की मदद कर रहे हैं। मैं उन लोगों से माफी भी मांगना चाहता हूं, जिन लोगों की मदद नहीं कर पा रहा हूं।'

हनुमा विहारी अब टीम इंडिया से जुड़ेंगे, जो विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप का फाइनल और फिर इंग्‍लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज खेलेगी।


Edited by Vivek Goel

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...