WI vs IND : रविचंद्रन अश्विन का बोल्ड के मामले में हैरान करने वाला आंकड़ा, भारत के महान गेंदबाज का रिकॉर्ड तोड़ा

Photo Courtesy : AFP/Getty Images
Photo Courtesy : AFP/Getty Images

टीम इंडिया (Team India) के दिग्गज स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने वेस्टइंडीज (West Indies) के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मुकाबले में कई बड़े कीर्तिमान हासिल कर लिए हैं। आर. अश्विन ने जैसे ही तेजनारायण चंद्रपॉल को क्लीन बोल्ड किया उसी दौरान उनके नाम दो अहम कीर्तिमान दर्ज हो गए। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बाप-बेटे की जोड़ी को आउट करने वाले वह 5वें गेंदबाज बने तो भारत की तरफ से पहले खिलाड़ी बने जिसने यह कारनामा दोहराया। इसी दौरान उन्होंने टेस्ट क्रिकेट का एक और बड़ा कीर्तिमान अपने नाम किया।

भारतीय टीम के लिए सबसे ज्यादा बोल्ड करने वाले वह पहले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। रविचंद्रन अश्विन ने इस ख़ास रिकॉर्ड में अनिल कुंबले को पीछे छोड़ दिया है। अश्विन ने तेजनारायण को बोल्ड कर टेस्ट क्रिकेट में 95वां शिकार किया। उनसे पहले यह रिकॉर्ड अनिल कुंबले के पास था, जिन्होंने टेस्ट फॉर्मेट में 94 बल्लेबाजों को बोल्ड किया हुआ था। अनिल कुंबले के बाद कपिल देव ने 88 और मोहम्मद शमी ने 66 बल्लेबाजों को बोल्ड आउट किया है। अश्विन ने तेजनारायण के बाद विंडीज के कप्तान क्रैग ब्रेथवेट को भी आउट किया और टेस्ट क्रिकेट में अभी तक 476 विकेट हासिल कर लिए हैं।

अश्विन ने चंद्रपॉल को आउट करके एक और अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम किया

रवि अश्विन ने पारी के 13वें ओवर में तेजनारायण को बोल्ड किया और बाप बेटे की जोड़ी को आउट करने का अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। अश्विन ने तेजनारायण के पिता शिवनारायण चंद्रपॉल का विकेट सबसे पहले टेस्ट क्रिकेट में साल 2011 में लिया था। दिल्ली में हुए टेस्ट मैच में अश्विन ने शिवनारायण को पगबाधा आउट किया था। अश्विन का रिकॉर्ड चंद्रपॉल के खिलाफ शानदार रहा है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में उन्हें 4 बार आउट किया है और अब पहली बार उन्होंने शिवनारायण के बेटे तेजनारायण को क्लीन बोल्ड कर एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। अश्विन ने तेजनारायण को 12 रनों के निजी स्कोर पर आउट किया है।

Quick Links

Edited by Rahul VBS
App download animated image Get the free App now