'युवराज सिंह पर घरेलू हिंसा की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई'

युवराज सिंह पर परिवार के साथ मिलकर घरेलू हिंसा के लिए उनकी भाभी आकांक्षा शर्मा द्वारा किये गए केस वाले मामले में एक नया मोड़ आया है। घरेलू हिंसा से सम्बन्धित कोई केस दर्ज नहीं होने की बात युवराज और उनके परिवार के वकील ने एक प्रेस वार्ता जारी कर बताई। उन्होंने कहा कि ऐसा केस नहीं हुआ है।

युवी की मां शबनम और भाई जोरावर के वकील दलबीर सिंह सोबती ने कहा कि आकांक्षा ने घरेलू हिंसा अधिनियम 2005 से धारा 25 के तहत याचिका लगाई है और मेरे मुवक्किल को इसमें आरोपी बनाया गया है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर जो भी बातें कही गई थी वह एकदम निराधार है।

गौरतलब है कि युवराज सिंह की भाभी आकांक्षा ने उनकी मां शबनम और भाई जोरावर के साथ उन पर भी घरेलू हिंसा के तहत केस दर्ज कराने की बात कही थी। खुद आकांक्षा की वकील स्वाति ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि युवी द्वारा परिवार की हरकतों को देखने के बाद भी कुछ नहीं करने के लिए उन्हें भी इसमें बराबर का दोषी माना गया है।

आकांक्षा ने कहा था कि युवी की मां उन्हें वित्तीय और मानसिक यातना दी है। आगे यह भी कहा गया कि युवराज सिंह की मां शबनम सिंह बहुत हावी रहने वाली महिला है और जोरावर सिंह पूरी तरह से उन पर ही निर्भर रहता है और मां के कहने पर ही हर काम करता है। आकांक्षा ने युवी की मां द्वारा उन पर बुरा बर्ताव करने का आरोप भी लगाया।

गौरतलब है कि आकांक्षा ने बिग बॉस के दौरान और बाहर आने के बाद भी युवराज पर लगातार आरोप लगाये हैं। कई साक्षात्कार के दौरान भी उन्होंने युवी और उनके परिवार के सदस्यों पर गंभीर बातें कही। एक इंटरव्यू में तो उन्होंने यह भी कहा था कि मैंने युवराज को गांजा पीते हुए देखा है।

Edited by Staff Editor