Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

भारतीय टीम ने 2013 में आज ही के दिन जीती थी चैंपियंस ट्रॉफी

  • फाइनल में इंग्लैंड को हराकर भारतीय टीम ने रचा था इतिहास
  • धोनी की कप्तानी में भारत ने जीती थी आईसीसी की तीनों ट्रॉफी
FEATURED COLUMNIST
फ़ीचर
Modified 23 Jun 2020, 15:24 IST
भारतीय टीम ने रचा था इतिहास
भारतीय टीम ने रचा था इतिहास

23 जून 2013 को एजबेस्टन में इंग्लैंड और भारतीय टीम के बीच चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल खेला गया था। भारतीय टीम ने रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को 5 रनों से हराते हुए इस फाइनल को जीत लिया था। इस फाइनल को जीतते ही महेंद्र सिंह धोनी आईसीसी की तीनों ट्रॉफी जीतने वाले पहले कप्तान भी बने थे। धोनी की कप्तानी में इससे पहले भारत ने 2007 वर्ल्ड टी20 और 2011 में वर्ल्ड कप को जीता था।

बारिश के कारण यह मैच 50 ओवरों की जगह 20 ओवरों का हुआ था और पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत की शुरुआत खराब रही थी और टीम ने रोहित शर्मा का विकेट जल्दी गंवा दिया था। शिखर धवन (31) और विराट कोहली के बीच 31 रनों की साझेदारी हुई और स्कोर 50 तक पहुंचा। हालांकि इंग्लैंड के गेंदबाजों के आगे भारतीय मध्यक्रम लड़खड़ा गया और टीम का स्कोर 66-5 हो गया। धोनी (0), सुरेश रैना (1) और दिनेश कार्तिक (6) कुछ खास नहीं कर पाए।

विराट कोहली और रविंद्र जडेजा ने भारतीय टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया

66 के स्कोर पर आधी टीम के आउट होने जाने के बाद विराट कोहली और रविंद्र जडेजा के बीच 47 रनों की साझेदारी हुई और स्कोर को 100 के पार लेकर गए। 113 के स्कोर पर कोहली (34 गेंदों में 4 चौके और एक छक्के की मदद से 43 रन) आउट हुए। अंत में जडेजा (25 गेंदों में 2 चौके और 2 छक्कों की मदद से 33* रन) ने नाबाद रहते हुए भारतीय टीम के स्कोर को 129-7 तक पहुंचाया।

यह भी पढ़ें: रोहित शर्मा द्वारा सभी फॉर्मेट के पहले मैच में किए गए प्रदर्शन पर नजर

130 रनों का पीछा करते हुए इंग्लैंड की शुरुआत बेहद खराब रही और 9वें ओवर तक टीम का स्कोर 46-4 हो गया। इयोन मॉर्गन और रवि बोपारा ने 64 रनों की साझेदारी करते हुए स्कोर को 100 के पार लेकर गए। एक समय ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड की टीम आसानी से इस लक्ष्य को हासिल कर लेगी। हालांकि इशांत शर्मा 18वें ओवर में लगातार गेंदों पर मॉर्गन और बोपारा को आउट किया और मैच में भारतीय टीम की जबरदस्त तरीके से वापसी कराई।

अंत में 20 ओवरों के बाद इंग्लैंड की टीम 124-8 का स्कोर ही बना पाई। भारत के लिए रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और इशांत शर्मा ने सबसे ज्यादा 2-2 विकेट लिए। रविंद्र जडेजा को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया, तो शिखर धवन को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया।

Published 23 Jun 2020, 15:15 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit