Create
Notifications

PSL ब्रॉडकास्टिंग टीम के भारतीय सदस्यों को वीजा नहीं मिलने से पाकिस्तान बोर्ड चिंतित

निरंजन
visit

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) के छठे संस्करण के प्रसारण दल के लिए अपने भारतीय (Indian) और दक्षिण अफ्रीकी (South African) सदस्यों के लिए वीजा का इंतजार कर रहा है। मार्च में टीमों के भीतर कोरोना वायरस का प्रवेश होने के बाद टूर्नामेंट उस समय स्थगित कर दिया गया था लेकिन अब इसकी एक बार फिर से शुरुआत हो रही है।

एक रिपोर्ट के अनुसार पीसीबी को 23 मई तक भारतीय और दक्षिण अफ्रीकी नागरिकों के लिए वीजा नहीं मिला था, ये सभी सदस्य प्रसारण दल (Broadcasting Team) में शामिल हैं। प्रक्रिया के बाद सदस्यों को अबुधाबी पहुंचकर 10 दिनों के लिए तय अनिवार्य क्वारंटीन प्रक्रिया से गुजरना होगा। इससे पहले पीसीबी ने पीएसएल के बचे हुए मैचों को खत्म करने के लिए विचार किया था। यूएई में कड़े नियमों और बायो बबल को देखते हुए टूर्नामेंट स्थगित करने के बारे में सोचा जा रहा था। बाद में यूएई सरकार से कुछ छूट मिलने के बाद टूर्नामेंट का अयोजन करने का रास्ता साफ़ हो गया।

भारतीय दलों के लिए क्वांरटीन नियम अलग

पीएसएल में खेलने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ियों और अन्य खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य क्वारंटीन की अवधि 7 दिन की है। भारतीय और दक्षिण अफ़्रीकी प्रसारण दलों के सदस्यों के लिए यह अवधि 10 दिन है। अब तक उन्हें वीजा नहीं मिला है इसलिए पीसीबी को भी चिंतित देखा जा सकता है।

दक्षिण अफ्रीका से खिलाड़ियों को लाने के लिए पीसीबी को चार्टर प्लेन की व्यवस्था करनी पड़ेगी, ऐसे में खर्च के लिहाज से देखा जाए, तो पीसीबी को इन खिलाड़ियों को लाना महंगा पड़ेगा। हालांकि ब्रॉडकास्ट अधिकारों से पीसीबी को कमाई भी होगी।

पीएसएल की तरह भारत में भी आईपीएल को कोरोना वायरस के कारण अनिश्चतकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। टूर्नामेंट फिर से शुरू करने के लिए बीसीसीआई को एक नई विंडो की तलाश करनी पड़ेगी।


Edited by निरंजन
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now