राजस्थान रॉयल्स यूएई में महिला खिलाड़ियों के लिए आगे आई

राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी
राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी

राजस्थान रॉयल्स वह टीम है जिसने पहली बार हुए आईपीएल सीजन में जीत हासिल की। राजस्थान रॉयल्स सामाजिक कामों के लिए भी जानी जाती है। 2018 में कैंसर से जंग में इस टीम ने चैरिटी की थी और अब राजस्थान रॉयल्स फ्रेंचाइजी ने एक और बड़ी पहल की है। राजस्थान रॉयल्स ने यूएई में जूनियर महिला क्रिकेटरों को स्पॉटन्सर करने का ऑफर दिया है।

स्टेट्समैन की रिपोर्ट के अनुसार राजस्थान रॉयल्स के मुखिया रणजीत बरठाकुर के नेतृत्व में एक डेलिगेशन दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल से मिला है। उन्होंने दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल के साथ मिलकर काम करने की इच्छा जताई है। बरठाकुर ने कहा कि यूएई में क्रिकेट को प्रमोट करने के लिए टॉप छह जूनियर महिला क्रिकेटरों को वार्षिक आधार पर स्पॉटन्सर करने के बारे में हमने उन्हें कहा है।उन खिलाड़ियों को स्पेशल ट्रेनिंग के लिए भारत भी लेकर जाया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि मैं यूएई और दुबई की सरकार को आईपीएल आयोजन के लिए धन्यवाद देता हूँ। यह भारत और वर्ल्ड के लिए एक अहम इवेंट है। एक देश के रूप में भारत के लिए गर्व करने का साधन है।

यह भी पढ़ें: भारतीय टीम के 4 खिलाड़ी एमएस धोनी से पहले आए एवं अब तक सक्रिय हैं

राजस्थान रॉयल्स ने सिर्फ एक बार आईपीएल जीता

शुरुआती आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स ने 2008 में खिताबी जीत हासिल की थी। उसके बाद अन्य सभी टीमें मजबूत होती गई और राजस्थान रॉयल्स का ग्राफ नीचे आता गया। पिछले एक दशक में राजस्थान रॉयल्स को टूर्नामेंट में एक बार भी जीत हासिल करने का मौका नहीं मिला है। देखना होगा इस बार टीम की रणनीति क्या होती है और खिलाड़ी कैसे खेलते हैं।

राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी
राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी

कोरोना वायरस के कारण भारत से बाहर यूएई में टूर्नामेंट कराया जा रहा है। सभी टीमें यूएई में अपनी प्रैक्टिस में व्यस्त हैं। पहला मैच चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच अबुधाबी में खेला जाएगा। दोनों टीमों के बीच पिछले साल फाइनल में मुकाबला हुआ था।

Quick Links

App download animated image Get the free App now