Create

"वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबला होना चाहिए था"

Photo Credit - BCCI
Photo Credit - BCCI
Nitesh

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी रमीज राजा ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इस चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला ना होने को लेकर निराशा जताई है। रमीज राजा के मुताबिक वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में दोनों टीमों के बीच मैच ना कराने का सेंस ही नहीं बनता है।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला संस्करण कोरोना वायरस की वजह से काफी प्रभावित हुआ। क्रिकेट कैलेंडर प्रभावित होने की वजह से आईसीसी ने इसके फॉर्मेट में ही बदलाव कर दिया। क्रिकेट बाज यू-टूयब चैनल पर रमीज राजा ने कहा कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फॉर्मेट में अभी सुधार की जरुरत है।

ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिए न्यूजीलैंड महिला टीम का ऐलान

अभी जो फॉर्मेट है उसमें कई कमियां हैं। इंडिया और पाकिस्तान के बीच सीरीज ना होना हैरान करता है। टीमें बराबर मैच नहीं खेलती हैं और प्वॉइंट सिस्टम भी काफी अजीब है। इसके लिए 3 महीने का विंडो होना चाहिए और हर टीम एक दूसरे के खिलाफ खेले।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की अगर बात करें तो इसमें कई टीमों ने काफी ज्यादा मैच खेले हैं तो कई टीमों ने काफी कम मुकाबले खेले हैं। उदाहरण के लिए भारतीय टीम ने इस दौरान 17 टेस्ट खेले, जबकि दूसरी तरफ बांग्लादेश टीम ने केवल पांच ही मैच खेले हैं।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप को लेकर रमीज राजा ने दिया अहम सुझाव

रमीज राजा ने सुझाव दिया कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के समय और कोई क्रिकेट ना हो, जिससे सारी दुनिया का ध्यान सिर्फ इसी पर रहे।

अगली बार जब इस चैंपियनशिप का आयोजन हो तो कोई भी क्रिकेट उस वक्त नहीं होना चाहिए। अगर आप टेस्ट क्रिकेट को प्रमोट करना चाहते हैं और इस फॉर्मेट के लिए स्पॉन्सर चाहते हैं तो फिर ऐसा करना पड़ेगा। स्पॉन्सरशिप तभी आएगा जब आप उनको और कोई दूसरा ऑप्शन नहीं देंगे।

ये भी पढ़ें: कप्तानी से हटाए जाने के बाद जेसन होल्डर का जबरदस्त प्रदर्शन, मुश्किल में श्रीलंका


Edited by Nitesh

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...