COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

क्रिकेट न्यूज: राशिद खान और मोहम्मद नबी ने असगर अफगान को कप्तानी से हटाने के फैसले का किया विरोध

SENIOR ANALYST
न्यूज़
6.29K   //    05 Apr 2019, 19:05 IST

Enter caption

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एक चौंकाने वाला फैसला लेते हुए टीम के नियमित कप्तान असगर अफगान को कप्तानी से हटा दिया। उनकी जगह पर 3 अलग-अलग खिलाड़ियों को कप्तान बनाया गया। रहमत शाह को टेस्ट टीम, गुलबदिन नईब को वनडे टीम और दिग्गज स्पिनर राशिद खान को टी20 टीम की कमान सौंपी गई। हालांकि बोर्ड के इस फैसले से टीम के स्टार खिलाड़ी खुश नहीं हैं और उन्होंने ट्वीट कर इस फैसले का विरोध किया है।

राशिद खान ने ट्वीट कर कहा कि चयन समिति का पूरा सम्मान करते हुए मैं इस फैसले का विरोध करता हूं। ये गैरजिम्मेदाराना और पक्षपातपूर्ण है। विश्व कप में ज्यादा समय नहीं बचा है, इसलिए असगर अफगान ही टीम के कप्तान बने रहने चाहिए। टीम की सफलता में उनकी कप्तानी का बहुत बड़ा हाथ है।


उन्होंने एक और ट्वीट कर कहा कि विश्व कप अब कुछ ही दिन शेष है, इसलिए टीम का कप्तान बदलने से एक अनिश्चितता का माहौल पैदा होगा और टीम पर भी बुरा असर पड़ेगा।


वहीं टीम के एक और दिग्गज खिलाड़ी और पूर्व कप्तान मोहम्मद नबी ने भी इस फैसले का विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि टीम का सीनियर खिलाड़ी होने के नाते और अफगानिस्तान क्रिकेट टीम ने जिस तरह का विकास किया है उससे देखते हुए मुझे नहीं लगता कि ये कप्तान बदलने का सही समय है। असगर अफगान की कप्तानी में टीम ने काफी बढ़िया प्रदर्शन किया है और वे इसके लिए सबसे उपयुक्त खिलाड़ी हैं।


गौरतलब है कि असगर अफगान को साल 2015 में अफगानिस्तान क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया था। उन्हें ऑल राउंडर मोहम्मद नबी को हटाकर कप्तान बनाया गया था। उनकी कप्तानी में अफगानिस्तान ने सराहनीय प्रदर्शन किया था और अपने देश को आईसीसी से पूर्ण सदस्यता दिलवाने में अहम भूमिका निभाई थी। असगर की कप्तानी में अफगान टीम ने 31 एकदिवसीय मैचों में जीत दर्ज की है और 46 टी-20 मैचों में से 37 मैचों में जीत हासिल की है। असगर की कप्तानी में ही अफ़ग़ानिस्तान की टीम ने आयरलैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पहली जीत दर्ज की थी।

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...