Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

हार्दिक-केएल राहुल मामले पर रवि शास्त्री ने तोड़ी चुप्पी, कहा-दोनों पर कार्रवाई होनी जरूरी थी

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
Published 14 Mar 2019, 11:28 IST
14 Mar 2019, 11:28 IST

Enter caption

भारतीय टीम के उभरते हुए खिलाड़ी हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने बीते दिनों महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करके भारतीय टीम का सिर शर्म से झुका दिया था। दोनों करण जौहर के टॉक शो कॉफी विद करण में आए थे। इसके बाद काफी बवाल खड़ा हुआ था। बीसीसीआई ने दोनों खिलाड़ियों को तुरंत ही टीम से निकाल दिया था। अब इस मामले पर टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने कहा कि इन दोनों खिलाड़ियों पर कार्रवाई करनी जरूरी थी, ताकि भविष्य में दूसरे खिलाड़ी ऐसा न करें। 

रवि शास्त्री ने कहा कि दोनों को फटकार की सख्त जरूरत थी। उन्होंने जो किया, उसका सबक मिलना जरूरी था। यह दोनों खिलाड़ियों के लिए अच्छा है। जिंदगी में गलतियां हो जाती हैं और उसकी कभी-कभी सजा मिल जाती है लेकिन दुनिया यहीं खत्म नहीं होती है। इस तरह के अनुभव के बाद खिलाड़ी मजबूती के साथ वापसी करने की कोशिश करते हैं। फिलहाल, हार्दिक पांड्या फिट न होने की वजह से टीम से बाहर चल रहे हैं। करण जौहर के शो में पांड्या और राहुल ने महिलाओं से अपने रिलेशनशिप और हीरोइनों के बारे में खुलकर बातचीत की थी। 11 जनवरी को दोनों को आनन-फानन में ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस बुला लिया गया और न्यूजीलैंड दौरे से बाहर कर दिया गया। हालांकि, 24 जनवरी को बीसीसीआई ने पांड्या और केएल पर निलंबन तत्काल प्रभाव से हटा लिया। 

Enter caption

इसके अलावा, रवि शास्त्री ने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली में बेहतर कौन है इस पर भी जवाब दिया। रवि ने कहा कि अगर कोई खिलाड़ी अपने जबरदस्त प्रदर्शन से अलग है तो वो हैं सर डॉन ब्रैडमैन। वे अपनी पीढ़ी के खिलाड़ियों से बहुत आगे थे पर सचिन और विराट में काफी समानताएं हैं। दोनों का क्रिकेट के लिए पैशन, खेलने का तरीका, सर्वश्रेष्ठ बने रहने की दौड़ में शामिल होना लगभग एक जैसा है। दोनों ही खिलाड़ी बच्चों और यंगस्टर्स के लिए बड़े रोल मॉडल हैं। 


Hindi Cricket News सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Modified 20 Dec 2019, 22:04 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...