Create

रोहित शर्मा और विराट कोहली के बीच कप्‍तानी पर रवि शास्‍त्री ने दिया बड़ा बयान

रोहित शर्मा को सफेद गेंद कप्‍तान बनाया गया जबकि विराट कोहली लाल गेंद में कप्‍तानी जारी रखेंगे
रोहित शर्मा को सफेद गेंद कप्‍तान बनाया गया जबकि विराट कोहली लाल गेंद में कप्‍तानी जारी रखेंगे
Vivek Goel

पूर्व भारतीय (India Cricket team) हेड कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि विराट कोहली (Virat Kohli) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) दोनों के लिए स्प्ल्टि कप्‍तानी वरदान साबित हो सकती है। रोहित शर्मा को सफेद गेंद कप्‍तान बनाया गया है जबकि विराट कोहली लाल गेंद क्रिकेट में कप्‍तानी जारी रखेंगे।

शास्‍त्री ने स्‍टार स्‍पोर्ट्स के शो बोल्‍ड एंड ब्रेव पर कहा, 'मेरे ख्‍याल से यह आगे बढ़ने का सही तरीका है। यह विराट और रोहित के लिए वरदान साबित हो सकता है क्‍योंकि मुझे नहीं लगता कि इस युग में अगर बबल जिंदगी एक या दो या फिर कितने साल तक चले और ऐसे में किसी एक खिलाड़ी के लिए तीनों प्रारूपों की कप्‍तानी करना बिलकुल भी आसान नहीं।'

विराट कोहली के साथ अपनी साझेदारी के बारे में बात करते हुए शास्‍त्री ने कहा, 'हम दोनों काफी आक्रामक हैं। हम जीत के लिए खेलते हैं। हमें बहुत जल्‍द एहसास हो गया था कि आक्रामक और निडर क्रिकेट खेलने के लिए आपको 20 विकेट लेने की जरूरत है। इसका मतलब यह है कि आप मैच हार भी सकते हो, लेकिन एक बार आपने सीमा पार की तो यह नशा बन जाता है।'

शास्‍त्री ने साथ ही कहा कि अगर वह टेस्‍ट ओपनर के रूप में रोहित शर्मा का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन नहीं निकाल पाते तो वो खुद को सफल कोच नहीं मानते। शास्‍त्री ने कहा, 'मेरे दिमाग में एकदम साफ था कि मुझे ये करना है। मुझे लगा कि अगर मैंने बतौर बल्‍लेबाज उसका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन नहीं निकाला तो मैं कोच के रूप में फेल हूं क्‍योंकि वहां काफी प्रतिभा है।'

विराट में पहले ही दिखी थी महान बल्‍लेबाज बनने की झलक: शास्‍त्री

विराट कोहली के भारतीय टीम में युवा दिनों को याद करते हुए शास्‍त्री ने कहा, 'इंग्‍लैंड (2014) दौरे के दौरान मैं इंग्‍लैंड में काफी शो करता था। मैं बॉब विलिस और चार्ल्‍स कोलविले के साथ द वर्डिक्‍ट शो करता था, तो मुझे कोहली को करीब से देखने का मौका मिला।'

शास्‍त्री ने कहा, 'मैंने देखा कि वो किस तरह आउट हुए। मगर मुझे अंदर ही अंदर पता था कि वो न कटने वाला हीरा है। वो ऐसा व्‍यक्ति है, तो आप पर हावी होना जानता है। एमएस ने जब कप्‍तानी खत्‍म की तो वो टीम का नेतृत्‍व करने को तैयार था। वह ऐसी शख्सियत है तो सामने आकर टीम का नेतृत्‍व करता है।' रवि शास्‍त्री के मुताबिक युवा बल्‍लेबाज ने पहले ही महान बल्‍लेबाज बनने के संकेत दिखा दिए थे।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...