IPL 2024: फाफ डू प्लेसी ने बताई लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ RCB की हार की बड़ी वजह, गेंदबाजी को लेकर भी जताई निराशा

(Photo Courtesy: BCCI)
(Photo Courtesy: BCCI)

IPL 2024 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) का ख़राब प्रदर्शन जारी है और टीम सीजन में चार में से तीन मुकाबले गंवा चुकी है। आरसीबी को अपनी तीन हार में से दो घरेलू मैदान एम चिन्नास्वामी पर मिली हैं। बेंगलुरु में मंगलवार को आईपीएल 2024 का 15वां मुकाबला (RCB vs LSG) खेला गया, जिसमें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को लखनऊ सुपर जायंट्स ने 28 रनों से मात दी। अपनी टीम की हार के बाद कप्तान फाफ डू प्लेसी (Faf du Plessis) काफी निराश नजर आये और उन्होंने खराब फील्डिंग और गेंदबाजी का जिक्र किया।

मुकाबले में टॉस हारकर लखनऊ सुपर जायंट्स की टीम ने 20 ओवर में 181/5 का स्कोर बनाया, जिसमें क्विंटन डी कॉक के 81 और निकोलस पूरन के नाबाद 40 रन शामिल रहे। इन दोनों को ही अपनी पारियों की शुरुआत में जीवनदान मिले थे, जिसका खामियाजा आरसीबी को उठाना पड़ा। 182 के लक्ष्य के जवाब में आरसीबी की टीम पूरे ओवर भी नहीं खेल पाई और और दो गेंद शेष रहते 153 का स्कोर बनाकर ऑलआउट हो गई।

मैच के बाद, फाफ डू प्लेसी ने भी माना कि ड्रॉप किये गए कैच भारी पड़े और हार की वजह भी रहे। उन्होंने कहा, "हां, बिलकुल सही। क्विंटन डी कॉक 20 या 25 रन पर थे और निकी पी दो रन पर थे और हमने उनके कैच ड्रॉप कर दिए। 60-65 अतिरिक्त रन और आईपीएल में इस तरह की गलतियाँ आपको भारी पड़ सकती हैं।"

आरसीबी के कप्तान ने मयंक यादव के खिलाफ खेलने के अनुभव को साझा किया, जो अपनी तेज गेंदबाजी के लिए चर्चा बटोर रहे हैं। फाफ ने कहा, " शुरुआत में, किसी भी नए एक्शन वाले तेज गेंदबाज के सामने बल्लेबाजों को यह देखने के लिए समायोजित करने में कुछ समय लगता है कि गेंद कैसे निकलती है। मैं उनकी गति से प्रभावित था। लेकिन जो अधिक प्रभावशाली है वह है लेंथ पर उनका नियंत्रण। अतिरिक्त गति के साथ इसे प्राप्त करना कठिन है।"

फाफ डू प्लेसी ने आगे अपनी टीम की गेंदबाजी और बल्लेबाजी को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि हम गेंदबाजी में अच्छे नहीं थे। हम पावरप्ले में खराब थे। हमने उनके मजबूत क्षेत्रों में बहुत अधिक ढीली गेंदें दीं। ग्लेन मैक्सवेल ने वास्तव में अच्छी वापसी करवाई। डेथ ओवरों में हमने उन्हें रोककर अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन लक्ष्य का पीछा करते हुए आपको साझेदारियों की जरूरत होती है। यह बुनियादी है। निराशाजनक है कि हम इसे बल्ले से नहीं कर पाए और हमें इसका पीछा करने के लिए ड्रेसिंग रूम में कुछ मजबूत खिलाड़ियों की जरूरत है।"

Quick Links

Edited by Prashant Kumar