CWC 2023 : चोटिल ग्लेन मैक्सवेल की तूफानी पारी से सचिन तेंदुलकर भी हुए प्रभावित, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी की तारीफ में कही बड़ी बात 

Neeraj
मैक्सवेल ने वर्ल्ड कप के इतिहास का तीसरा शतक लगाया
मैक्सवेल ने वर्ल्ड कप के इतिहास का तीसरा शतक लगाया

7 नवंबर को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में इतिहास रचा गया। ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान (AUS vs AFG) के बीच हुए मुकाबले में ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने ऐसी जबरदस्त पारी खेली जिसने तमाम क्रिकेट फैंस के होश उड़ा दिए। स्टार ऑलराउंडर ने दर्द से गुजरते हुए मैच जिताऊ पारी खेली। उनकी इस पारी से क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भी प्रभावित नजर आये और उन्होंने बताया कि जिस वजह से मैक्सवेल को दर्द हो रहा था, उसने ही उनकी मदद अच्छा खेलने में भी की।

बता दें कि वर्ल्ड कप 2023 के 39वें मैच में पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया बड़े उलटफेर का शिकार होने से बची। इस मुकाबले में अफगानिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 292 रनों का टारगेट दिया था। जवाब में टारगेट का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 91 के स्कोर पर अपने सात विकेट गँवा दिए थे। यहाँ से मैक्सवेल ने 128 गेंदों में नाबाद 201 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया की हार को जीत में बदल दिया। हालाँकि, इस पारी के दौरान उनको कई बार क्रैम्प्स आये, जिसके चलते वो दौड़ भी नहीं पा रहे थे। मैदान पर कई बार उन्हें ट्रीटमेंट भी लेना पड़ा था।

ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर की इस शानदार पारी ने क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का भी दिल जीत लिया। मैक्सवेल की तारीफ में उन्होंने एक ट्वीट किया और लिखा,

जीवन और क्रिकेट में काफी समानताएं हैं। कभी-कभी, एक स्प्रिंग की तरह, जो आपको पीछे खींचता है वही आपको आगे बढ़ाता है। अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में ग्लेन मैक्सवेल क्रैम्प्स से जूझ रहे थे। इस कारण वह फुटवर्क का प्रयोग नहीं कर पा रहे थे। उन्हें क्रीज पर टिके रहना था, लेकिन इससे उन्हें स्थिर सिर रखने, गेंद को करीब से देखने और हाथों-आँखों को अच्छी तरह से समन्वय करने में मदद मिली, जिसे उनकी बल्ले की स्पीड का समर्थन मिला।

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया ने अफगान टीम को तीन विकेट से हराकर सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है। टूर्नामेंट में अब पैट कमिंस की टीम अपना आखिरी लीग मैच 11 नवंबर को पुणे के एमसीए स्टेडियम में बांग्लादेश के विरुद्ध खेलेगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment