हरभजन सिंह के साथ थप्पड़ वाले विवाद पर फिर बोले श्रीसंत, मामले को तूल देने के लिए मीडिया को ठहराया जिम्मेदार 

श्रीसंत ने हरभजन सिंह को अपना अच्छा दोस्त बताया
श्रीसंत ने हरभजन सिंह को अपना अच्छा दोस्त बताया

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) दुनिया की सबसे मशहूर और चर्चित टी20 क्रिकेट लीग है। इस लीग से विवादों का भी खास नाता रहा है, खासकर लीग के पहले ही सीजन (2008) में एक बड़ा विवाद हुआ था, जिसके बारे में आज भी बात की जाती है। मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के लिए खेल रहे हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth) को मैदान पर ही थप्पड़ जड़ दिया था। इसके बाद श्रीसंत को मैदान में रोते हुए देखा गया और इस मामले ने उस समय काफी चर्चा बटोरी थी।

इस घटना के बाद हरभजन को उस शेष सीजन से बैन कर दिया गया था। पिछले साल इस घटना पर हरभजन ने कहा था कि उन्होंने जो भी किया वो गलत था और इसका उन्हें पछतावा है क्योंकि उनकी इस हरकत की वजह से उनके साथी खिलाड़ियों को भी बेइज्जत होना पड़ा था।

मीडिया ने मामले को दिया था गलत तूल - श्रीसंत

अब श्रीसंत ने इस प्रकरण पर अपनी प्रतिक्रिया दी और कहा कि हम दोनो अच्छे दोस्त हैं और घरेलू क्रिकेट के समय से ही हरभजन ने उनकी काफ़ी मदद की है। श्रीसंत का ये भी मानना है कि मीडिया ने इस मामले को काफ़ी बड़ा चढ़ाकर पेश किया। श्रीसंत ने स्पोर्ट्स यारी से बातचीत के दौरान कहा,

“हम हमेशा अच्छे दोस्त रहे हैं, जो भी हुआ वो कुछ गलतफहमी के कारण हुआ और मीडिया ने उस मामले को अलग तूल पकड़ा दी। मैं इतना कहूँगा कि भज्जी पा ने मेरी शुरुआत से ही हर तरीके से मदद की है और अभी हाल ही में कमेंटरी करने में भी कुछ टिप्स दिए। उन्होंने मुझे समर्थन दिया और मदद की है, जिसके लिए मैं उनका हमेशा शुक्रगुज़ार हूँ। वो एक गाना है ना,‘तेरे जैसा यार कहाँ’, मेरा उनके साथ कुछ एसा ही रिश्ता है।"

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now