शाकिब अल हसन के बैन वाले मामले में कई चीजें अब भी अनसुलझी हैं

 शाकिब अल हसन
शाकिब अल हसन

हाल ही में बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन को सट्टेबाजों के बारे में आईसीसी को जानकारी नहीं देने के दोष में दो साल के लिए बैन किया गया है। एंटी करप्शन यूनिट को मैच फिक्सिंग की किसी भी कोशिश के बारे में नहीं बताने पर उन्हें धारा 2.4.4 का दोषी माना गया था। दो साल में से उन्हें एक साल के लिए सस्पेंड किया गया है।

आईसीसी ने जानकारी दी कि शाकिब पर फिक्सिंग के कोई आरोप नहीं है लेकिन उन्होंने सट्टेबाज से बातचीत की और बताया नहीं। सट्टेबाज दीपक अग्रवाल से शाकिब की व्हाट्सएप्प चैट की कई बातों का खुलासा भी हुआ। इनमें एक चौंकाने वाली चीज यह रही कि शाकिब ने स्वीकार किया कि दीपक अग्रवाल ने अंदरूनी जानकारी उनसे माँगी थी। ध्यान देने वाली बात यह है कि उनकी चैट से कुछ मैसेज डिलीट किये गए हैं।

यह भी पढ़ें: भारत-बांग्लादेश पहले टी20 मैच का सीधा प्रसारण कहाँ देखें

डिलीट मैसेज के बारे में शाकिब ने बताया कि इनमें अंदरूनी जानकारी माँगी गई थी जो उन्होंने उस व्यक्ति को नहीं बताई। उनकी इस बात पर कितना भरोसा किया जाए और डिलीट किये मैसेज में क्या बातचीत हुई थी, यह शाकिब अल हसन से बेहतर कोई नहीं जानता है। जिस शख्स ने चैट की जानकारी एक साल से ज्यादा समय तक छुपाकर रखी, उसकी बातों में कितनी सच्चाई है और क्या मामला है यह गहन जांच जा विषय है।

आईसीसी ने सिर्फ जानकारी नहीं देने का दोषी मानकर शाकिब को दो साल के लिए बैन किया है लेकिन इस मामले में कई अनसुलझे सवाल अभी भी हैं और डिलीट किये गए मैसेज उनमें प्रमुख है। आईसीसी ने इस बारे में सोचा या नहीं, यह भी किसी को नहीं पता। देखा जाए तो शाकिब अल हसन के मामले में कई राज बाहर ही नहीं आ पाए और वे फिक्सिंग के आरोपों से बच गए।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma