Create

टीम इंडिया के प्रमुख क्रिकेटर ने अचानक लिया संन्‍यास, चौंकाने वाला रिकॉर्ड है उनके नाम

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्‍यास लिया
स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्‍यास लिया

टीम इंडिया (India Cricket team) के ऑलराउंडर स्‍टुअर्ट बिन्‍नी (Stuart Binny) ने सोमवार को तत्‍काल प्रभाव से अंतरराष्‍ट्रीय व फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट से संन्‍यास ले लिया है। स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने 6 टेस्‍ट, 14 वनडे और तीन टी20 इंटरनेशनल मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्‍व किया है।

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी के नाम भारत की तरफ से सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी आकंड़ें का रिकॉर्ड भी दर्ज है। बिन्‍नी ने बांग्‍लादेश के खिलाफ सिर्फ 4 रन देकर 6 विकेट लिए थे।

बता दें कि स्‍टुअर्ट बिन्‍नी अपने पिता रोजर बिन्‍नी (Roger Binny) के समान मध्‍यम तेज गति की गेंदबाजी और दमदार बल्‍लेबाजी करते हैं।

बिन्‍नी ने अपने संन्‍यास पर बयान जारी करते हुए कहा, 'मैं जानकारी देना चाहता हूं कि मैंने अंतरराष्‍ट्रीय और फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट से संन्‍यास लेने का फैसला किया है। उच्चतम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करने पर मुझे बहुत खुशी और गर्व हुआ है।'

इसमें आगे कहा गया, 'मैं उस बड़ी भूमिका को बताना चाहता हूं जो बीसीसीआई ने मेरी क्रिकेट यात्रा में निभाई है। इतने सालों में उनका भरोसा और समर्थन अतुल्‍नीय है। मेरी क्रिकेट यात्रा शुरू भी नहीं होती अगर यह कर्नाटक राज्य और उनके समर्थन के लिए नहीं होती। अपने राज्‍य के लिए ट्रॉफी जीतना और कप्‍तानी करना सम्‍मान की बात है।'

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने आईपीएल में भी बिखेरा जलवा

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों में 24 विकेट लिए थे और 459 रन बनाए हैं। बिन्‍नी के नाम अब भी भारत की तरफ से वनडे में सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी करने का रिकॉर्ड दर्ज है।

बिन्‍नी ने बांग्‍लादेश के खिलाफ 4 रन देकर 6 विकेट लिए थे। बिन्‍नी का फर्स्‍ट क्‍लास करियर करीब दो दशक का रहा, जहां उन्‍होंने 95 मैच खेले। इस दौरान उन्‍होंने 4796 रन बनाए और 148 विकेट लिए।

स्‍टुअर्ट बिन्‍नी ने आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, राजस्‍थान रॉयल्‍स और मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्‍व किया। आईपीएल में बिन्‍नी ने 95 मैचों में 22 विकेट लिए और 880 रन बनाए।

बिन्‍नी ने बयान में कहा, 'क्रिकेट का खेल मेरे खून में दौड़ता है और मैं हमेशा उस खेल को वापस कुछ देना चाहूंगा, जिसने मुझे सबकुछ दिया।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment