"शिवम दुबे को हार्दिक पांड्या के वापस आने पर भी ड्रॉप करना मुश्किल होगा" - सुनील गावस्कर ने दी बड़ी प्रतिक्रिया

(Photo Courtesy: BCCI)
(Photo Courtesy: BCCI)

पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने अच्छा प्रदर्शन कर रहे ऑलराउंडर शिवम दुबे (Shivam Dube) को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। गावस्कर को लगता है कि दुबे यह सुनिश्चित कर हैं कि हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) के फिट होने के बावजूद उन्हें टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2024) की टीम में रखा जाए।

शिवम दुबे ने चोट के कारण बाहर चल रहे हार्दिक पांड्या की गैरमौजूदगी में अफगानिस्तान टी20 सीरीज में मिले मौकों को पूरी तरह से भुनाया है और उन्होंने पहले दो मैचों में जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक लगाए। मोहाली में दुबे ने 40 गेंदों में नाबाद 60 और इंदौर में 32 गेंदों में नाबाद 63 रन बनाये थे। वहीं, गेंदबाजी में भी दो सफलताएं अपने नाम की।

सुनील गावस्कर ने क्रिकबज से कहा कि शुरुआत में हार्दिक के टी20 वर्ल्ड कप 2024 के लिए फिट नहीं होने पर उनका बैकअप बनने पर विचार किया जा रहा था, लेकिन दुबे यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि वह टूर्नामेंट के लिए प्लेन में रहें। पूर्व खिलाड़ी का मानना है कि चयनकर्ताओं के लिए दुबे को ड्रॉप करना आसान नहीं होगा। उन्होंने कहा,

हम उनके बारे में इस तरह बात कर रहे हैं कि वह अनफिट हार्दिक के बैकअप होंगे। लेकिन मुझे लगता है कि वह यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि अगर हार्दिक फिट है, तो भी वह उस वर्ल्ड कप टीम में उस प्लेन पर हैं। अगर आप इस तरह का प्रदर्शन करते हो तो किसी के लिए भी आपको बाहर करना बहुत मुश्किल होता है। अगर चयनकर्ता उन्हें बाहर करने का फैसला करते हैं तो यह उनके लिए वास्तव में कठिन फैसला होगा। दुबे वह सब कर रहे हैं, जो वह कर सकते हैं, और चयनकर्ताओं का सिरदर्द बढ़ा रहे हैं।

गावस्कर ने आगे कहा कि शिवम दुबे अब महसूस कर रहे हैं कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लायक हैं। वर्ल्ड कप विजेता खिलाड़ी ने यह भी कहा कि दुबे अपने खेल को जानते हैं और वह किसी की भी नक़ल करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा,

इन दो मैचों के बाद मुझे लगता है कि अब वह महसूस कर रहे होंगे कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी हैं। उन्हें अपने साथियों की सराहना और सम्मान मिला है क्योंकि उन्होंने दो बिल्कुल अद्भुत प्रदर्शन किए हैं। मुझे लगता है कि वह अपने खेल को लेकर अधिक सहज हैं। वह अपने खेल को बेहतर तरीके से जानते हैं। वह अब किसी की नक़ल करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं। उन्होंने बता दिया है कि वह क्या कर सकते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar